विवाह समारोह में जा रहे लोगों पर फायरिंग कर की थी लूट

विवाह समारोह में जा रहे लोगों पर फायरिंग कर की थी लूट

Anil Kumar Rawat | Updated: 14 Aug 2019, 09:10:07 PM (IST) Tikamgarh, Tikamgarh, Madhya Pradesh, India

इस घटना में पीडि़तों का ड्राइवर भी शामिल था।

टीकमगढ़. हत्या के प्रयास एवं लूट के मामले में पंचम अपर सत्र न्यायाधीश ने सजा सुनाई हैं। न्यायालय ने 5 आरोपियों को अलग-अलग धाराओं में दंडित किया हैं। मामला लगभग 5 वर्ष पुराना हैं। लुटेरों ने शादी समारोह में शामिल होने जा रहे लोगों के साथ घटना को अंजाम दिया था। इस घटना में पीडि़तों का ड्राइवर भी शामिल था।


मामले की जानकारी देते हुए अपर लोक अभियोजक मुकेश रैकवार ने बताया कि लगभग पांच वर्ष पूर्व 13 मई 2014 को सुनील अहिरवार एवं भगवानदास अहिरवार के साथ अन्य लोग विवाह समारोह में शामिल होने के लिए जा रहे थे। जब इनकी जीप अजनौर गांव के पास खादीयाबाबा घाटी पर पहुंची तो कुछ लोगों ने इशारा कर इन्हें रोक लिया। जीप के रूकते हुए आरोपी पूरन यादव, द्वारिका यादव, मिट्ठा यादव निवासी बदेलनखेरा थाना भगवां जिला छतरपुर एवं मिहीलाल यादव निवासी ग्राम पैरसला थाना शाहगढ़ एवं छुट्टी लोधी निवासी सलैया थाना बमनौरा जिला छतरपुर ने इन हथियारों एवं लाठियों के बल पर इन लोगों के साथ लूट की। इन पांचों आरोपियों ने इन लोगों से रुपए एवं जेवरात छीन लिए थे। इस घटना के बाद बड़ागांव धसान थाना पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ धारा 379, 307/34 सहित अन्य धाराओं में मामला दर्ज कर लिया था। आरोपियों द्वारा भगवानदास अहिरवार के सिर पर कट्टा अड़ाकर लूट की घटना को अंजाम दिया गया था। भगवानदास द्वारा जब यह कट्टा हटाने का प्रयास किया गया तो आरोपी ने फायर कर दिया था।

 

ड्राइवर था शामिल: लूट की इस घटना को पीडि़त पक्ष के ड्राइवर के साथ मिलकर अंजाम दिया गया था। शादी समारोह में शामिल होने जा रहे पीडि़तों का ड्राइवर मिट्ठा यादव भी इन आरोपियों से मिला हुआ था। रात्रि 10.30 बजे के लगभग जब इनके वाहन को रोकने के लिए आरोपियों ने इशारा किया तो पीडि़तों ने वाहन रोकने को मना किया था, लेकिन इसके बाद भी ड्राइवर ने वाहन रोक दिया था और यह घटना हुई थी।
यह सुनाई सजा: इस मामले में न्यायालय ने आरोपी मिट्ठा, पूरन, मिहीलाल, छुट्टी लोधी एवं द्वारिका यादव को धारा 379 में सात-सात वर्ष का कठोर कारावास, धारा 307 में पांच-पांच वर्ष का कारावास एवं दो-दो हजार रुपए जुर्माना की सजा से दंडित किया हैं। जुर्माना अदा न करने पर 6-6 माह का कारावास पृथक से भुगतना होगा। वहीं आरोपी छुटटी यादव को धारा 25(1-बी)ए में 1 वर्ष का कठोर कारावास एवं 500 रुपए जुर्माना तथा जुर्माना अदा न करने पर 15 दिन का कारावास भुगतने की सजा सुनाई हैं।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned