शुद्ध के लिए युद्ध अभियान सिर्फ विभाग तक सीमित, शहर की कीटनाशक दुकानों पर नहीं की जा रही कार्रवाई

कीटनाशक दवाएं, खाद और बीजों की जांच के लिए शुद्ध के लिए युद्ध अभियान चलाया जा रहा है।

By: akhilesh lodhi

Published: 27 Nov 2019, 06:00 AM IST

टीकमगढ़.कीटनाशक दवाएं, खाद और बीजों की जांच के लिए शुद्ध के लिए युद्ध अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान में ब्लांक और जिला स्तरीय टीमों का गठन किया गया है। इस टीम द्वारा शहर की दुकानों को छोड़ ग्रामीण क्षेत्रों की दुकानों को टारगेट किया जा रहा है। वहां सामग्री का सेम्पल लेकर प्रयोग शाला में भेजा जा रहा है। लेकिन प्रयोग शाला की जांच में एक माह से अधिक का समय लगने की बात की जा रही है।
टीकमगढ़ और निवाड़ी जिले के छह ब्लॉकों की कीटनाशक दुकानें, खाद दुकानें और बीज संस्थाओं की जांच शुद्ध के लिए युद्ध अभियान द्वारा की जा रही है। यह अभियान शहर की दुकानों के पास न जाकर ब्लांक और ग्रामीण क्षेत्रों की दुकानों से सभी सामग्री के सेम्पल लिए जा रहे है। इन टीमों द्वारा दुकान संचालकों की सामग्री से सेम्पल तो लिए जा रहे है। लेकिन टीम के अधिकारियों और कर्मचारियों की कार्रवाई नजर नहीं आ रही है। जिसके कारण किसानों को गुणवत्ताहीन कीटनाशक दवाएं, बीज और खाद को खरीदना पड़ रहा है।


यह नियुक्त की गई टीमें
शुद्ध के लिए युद्ध अभियान को संचालन करने के लिए एक ब्लांक में तीन सदस्यीय टीम को नियुक्त किया गया। जिले में चार सदस्यीय टीम का गठन किया गया। यह टीम छह ब्लांकों में नियुक्त की गई है। जिसके द्वारा अभियान को चलाया जा रहा है। लेकिन यह अभियान जमीन स्तर पर कार्रवाई नहीं कर पा रहा है। मामले को लेकर कृषि विभाग के उपसंचालक और सहायक उपसंचालक से बात की जाती है तो उनके द्वारा फोन नहीं उठाया जाता है। हर समय उनके द्वारा किसानों को मिलने वाली सुविधाओं से परहेज किया जाता है। जिसके कारण किसानों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।
फैक्ट फाइल
टीकमगढ़ जिला
कीटनाशक दवाओं के कुल सेम्पल - ८
बीज के कुल सेम्पल - १३
खाद के कुल सेम्पल - २८
निवाड़ी जिला
कीटनाशक दवाओं के कुल सेम्पल - ६
बीज के कुल सेम्पल - ३२
खाद के कुल सेम्पल - १५
इनका कहना
इस अभियान द्वारा दोनों जिलों में कार्रवाई की जा रही है। उसके लिए टीमों का गठन किया गया है। सेम्पल प्रयोगशाला भेजे गए है। रिपोर्ट आते ही कार्रवाई की जाएगी।
एलपी जैन एडीओ कृषि विभाग टीकमगढ़।

akhilesh lodhi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned