scriptदो वर्षों से जूनियर बेसिक विद्यालय में छात्रों ने नहीं लिया प्रवेश | Patrika News
टीकमगढ़

दो वर्षों से जूनियर बेसिक विद्यालय में छात्रों ने नहीं लिया प्रवेश

जतारा जूनियर बेसिक स्कूल

टीकमगढ़Jun 24, 2024 / 07:40 pm

akhilesh lodhi

जतारा जूनियर बेसिक स्कूल

जतारा जूनियर बेसिक स्कूल

९ पहल से और ६ शिक्षकों की हुई नई नियुक्ति

टीकमगढ़. जतारा नगर के जूनियर बेसिक विद्यालय में दो वर्षों से छात्रों ने प्रवेश नहीं लिया हैं और ना ही विद्यालय में पदस्थ शिक्षकों द्वारा प्रयास किया गया हैं। जिसके चलते इस विद्यालय को बंद करने की कार्रवाई की जा रही हैं। जबकि छात्रों को पढ़ाने के लिए ९ के करीब शिक्षक पदस्थ हैं और ६ नए शिक्षकों को नियुक्त किया गया हैं।
विदित हो कि 2 वर्ष पूर्व प्रदेश सरकार द्वारा शिक्षा में गुणवत्ता लाने के लिए सीएम राइज स्कूल खोले गए हैं। उसी में जतारा उत्कृष्ट विद्यालय को सीएम राइज का दर्जा दिया हैं। वर्ष 1956 से संचालित जूनियर बेसिक स्कूल के तहत प्राथमिक विद्यालय बालिका एवं प्राथमिक विद्यालय बालक में दर्ज विद्यार्थियों को सीएम राइज विद्यालय में मर्ज कर लिया हैं। जबकि इस विद्यालय में पहले से ९ शिक्षक पदस्थ है और ६ शिक्षकों को नियुक्त किया गया हैं।
2 वर्ष से नहीं दिया छात्रों को प्रवेश
जूनियर बेसिक स्कूल को बंद करने के लिए अब अधिकारियों ने कार्रवाई शुरू कर दी हैं। यहां शैक्षणिक वर्ष 2022 से 2023 वर्ष 2023 से 2024 वर्ष 2024 से 2025 के लिए छात्रों ने प्रवेश नहीं लिया हैं। इससे जिम्मेदारों की चिंता बढ़ती जा रही हैं। बताया गया कि इस विद्यालय में ९ शिक्षक पहले से पदस्थ हैं और ६ शिक्षकों की नहीं नियुक्ति की गई हैं। जबकि वर्ष २०२२ में यह विद्यालय बंद हो गया हैं, लेकिन पोर्टल पर चालू दिखाई दे रहा हैं।
अधिकारी कर रहे गुमराह
अधिकारियों द्वारा कहा जा रहा है कि यह विद्यालय सीएम राइज स्कूल में मर्ज किया गया हैं। जबकि सीएम राइज विद्यालय डाइस कोड 23080218810 पर चल रहा है। इसी पर कक्षा एक से 12 वीं तक के प्रवेश किए जा रहे हैं। जबकि जूनियर बेसिक विद्यालय का डायस कोड 230 80 220 301 है। जिस पर कोई भी प्रवेश नहीं किए जा रहे। विकासखंड शिक्षा अधिकारी से बात की गई तो उन्होंने कहा कि इस डाइस कोड को डिलीट करवाने की चर्चा की जा रही हैं। नगर के लोगों ने मांग की है कि सबसे पुराने प्राथमिक विद्यालय जूनियर बेसिक को भी चालू रखा जाए।
इनका कहना
इस संबंध में शिक्षा अधिकारी से बात करते हैं , अच्छी शिक्षा मिले बच्चों के हितों को ध्यान में रखा जाएगा। कोई भी स्कूल बंद नहीं किए जाएंगे।
हरिशंकर खटीक, विधायक जतारा।

सभी जिलों में नजदीकी विद्यालयों को मर्ज किया गया था, अब यहां की स्थिति क्या है पता करके ही कुछ बता पाऊंगा ।
आई एल आठिया, जिला शिक्षाअधिकारी टीकमगढ़।

Hindi News/ Tikamgarh / दो वर्षों से जूनियर बेसिक विद्यालय में छात्रों ने नहीं लिया प्रवेश

ट्रेंडिंग वीडियो