Sunday Political Club : भाजपा ने आडवाणी को बताया लौहपुरूष तो कांग्रेस ने सोनिया को त्याग की प्रतिमूर्ति

भाजपा ने आडवाणी को बताया लौहपुरूष तो कांग्रेस ने सोनिया को त्याग की प्रतिमूर्ति

By: anil rawat

Published: 10 Mar 2019, 07:22 PM IST

टीकमगढ़ ,लोकसभा चुनाव के मद्देनजर पत्रिका द्वारा आयोजित संडे पॉलिटिकल क्लब में की गई चर्चा में जहां भाजपा के लोगों ने लालकृष्ण आडवाणी की तुलना लौहपुरूष से की तो कांग्रेस ने सोनिया गांधी को त्याग की प्रतिमूर्ति बताया। इस बीच लोगों ने राम मंदिर सहित अन्य विषयों पर भी अपने विचार रखे।
चुनाव में अपने सामाजिक सरोकार को निभाते हुए पत्रिका द्वारा एक बार फिर से जनता के बीच पहुंच कर उनके मुद्दो को सामने लाने का प्रयास शुरू कर दिया गया है। इसी क्रम में पत्रिका ने रविवार को संडे पॉलिटिकल क्लब का आयोजन किया। इसमें विभिन्न राजनैतिक दलों के जनप्रतिनिधियों को आमंत्रित कर कुछ मुद्दों पर बात की गई। पत्रिका द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम में भाजपा और कांग्रेस के नेताओं से पूछा गया कि क्या सोनिया या आडवाणी बेहतर प्रधानमंत्री साबित होते। इस पर भाजपा के जिला उपाध्यक्ष मनोज देवलिया का कहना था कि आडवाणी जी ने पार्टी को स्थापित किया है। उनके पास दृढ़ इच्छा शक्ति है। वह बेहतर प्रधानमंत्री साबित होते। वहीं भाजपा के वरिष्ठ नेता गोपाल सिंह राय भी इस बात से सहमत थे। जबकि कांग्रेस के प्रदेश सचिव विकास यादव का कहना था कि सोनियां गांधी त्याग की प्रतिमूर्ति है। देश सेवा में जहां उनकी सास इंदिरा गांधी ने अपने प्राणों का उत्सर्ग किया था, वहीं उनके पति राजीव गांधी भी देश के लिए कुर्बान हुए थे। वह चाहती तो प्रधानमंत्री बन सकती थी, लेकिन यहां पर भी उन्होंने अपने त्याग का प्रदर्शन किया। वहीं सोनिया या आडवाणी के प्रधानमंत्री होने पर हमारी विदेश नीति मजबूत होती, प्रश्र के जबाव में भाजपा जिला महामंत्री अभिषेक खरे रानू का कहना था कि निश्चित रूप से आडवाणी जी के रहते विदेश नीति मजबूत होती। सोनिया और आडवाणी के पीएम होने पर राम मंदिर का विवाद हल होने के प्रश्र पर भाजपा के युवा नेता जीतू सेन का कहना था कि आडवाणी जी इस मसले को जरूर हल कर देते। वहीं कांग्रेस का कहना था कि कांग्रेस ने हमेंशा सभी धर्मों को साथ लेकर चलने का काम किया है। यह मामला कांग्रेस ही सुलझा सकती है। इस कार्यक्रम में आरके सोनी, इस्लाम खान, अमित गोस्वामी, तारकेश्वर त्रिपाठी, नीरज बिदुआ, अजय सिंह, अरविंद खेबरिया, दीपक शुक्ला सहित अन्य लोग उपस्थित रहे।

anil rawat Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned