बदरा बरसे तो एेसे कि फिर तोड़ा पिछले 5 साल का रिकॉर्ड, होने लगी परेशानी

बदरा बरसे तो एेसे कि फिर तोड़ा पिछले 5 साल का रिकॉर्ड, होने लगी परेशानी

anil rawat | Publish: Sep, 10 2018 02:36:27 PM (IST) Tikamgarh, Madhya Pradesh, India

बारिश का आंकड़ा 2012 के आंकड़े को पार कर 2013 के आंकड़े के करीब पहुंच गया है

टीकमगढ़. इस बार की बारिश ने पिछले पांच साल का रिकार्ड तोड़ दिया है। इस बार की बारिश का आंकड़ा 2012 के आंकड़े को पार कर गया है और 2013 के आंकड़े के करीब पहुंच गया है। इस वर्ष जिले में सक्रिए हुए मानसून ने पिछले पांच साल के सूखे की कमी को पूरा कर दिया है और जिला पानी से तर हो गया है। पिछले 14 वर्ष के आंकड़ों पर नजर डाले तो जिले में हर पांच साल के बाद एक वर्ष औसत बारिश दर्ज की जा रही है।
लगातार जारी बारिश ने पिछले पांच साल का रिकार्ड तोड़ दिया है। जिले में वर्ष 2013 में रिकार्ड 1372.2 मिमी बारिश दर्ज की गई थी। यह बारिश पूरे साल में हुई थी, जबकि इस वर्ष 9 सितम्बर तक ही जिले में लगभग 1125 मिमी बारिश दर्ज की जा चुकी है। यह बारिश वर्ष 2012 की कुल बारिश 1015 मिमी का भी आंकड़ा पार गई है। 2013 के बाद से लगातार चार साल सूखा पडऩे से इस वर्ष जिले के लोग पानी की बंूद-बूंद को मोहताज हो गए थे, लेकिन इस वर्ष सक्रिय हुए मानसून ने पिछले पांच सालों की कमी को पूरा कर दिया है।
2011 से 13 तक हुई झमाझम: वर्ष 2014 के पूर्व जिले में लगातार 3 साल जोरदार बारिश ने जिले को सराबोर कर दिया था। वर्ष 2011 में जहां जिले में अब तक की सर्वाधिक बारिश 1511.1 मिमी दर्ज की थी, वहीं 2012 में 1015.5 मिमी एवं वर्ष 2013 में 1372.2 मिमी बारिश से पूरा जिला तरबतर हो गया था। वर्ष 2013 के बाद से जिला लगातार पानी की समस्या से जूझ रहा है।

5 साल बाद हो रही औसत वर्षा: पिछले 14 साल के बारिश के आंकड़ों पर नजर डाली जाए तो जिले में हर पांच साल में एक बार औसत बारिश दर्ज की जा रही है। वर्ष 2004 से 2018 के बीच में यदि 2011 से 2013 का समय निकाल दिया जाए तो, शेष वर्षों में जिला हर बार पानी के लिए तरसता रहा है। औसत बारिश न होने के कारण इन वर्षों में जिले में सूखे की स्थिति निर्मित होती रही है।
8 डिग्री सेल्सियस कम है तापमान: इस वर्ष हुई जोरदार बारिश का असर जिले के तापमान पर भी दिखाई दे रहा है। पिछले वर्ष 9 सितम्बर को जहां जिले का तापमान 34.3 डिग्री एवं 2016 में 33.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया था, वहीं इस वर्ष दिन का अधिकतम तापमान महज 26.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है। पिछले दो वर्षों की तुलना में रात्रि के तापमान में भी 2 डिग्री का मामूली अंतर देखा गया है। पिछले वर्ष 9 सितम्बर का न्यूनतम तापमान जहां 25.2 डिग्री था वहीं इस वर्ष यह 23.2 डिग्री दर्ज किया गया है।

Ad Block is Banned