scriptशराब में कीटनाशक दवा मिलाकर प्रेमी ने शादी शुदा प्रेमिका को मार डाला | Patrika News
टीकमगढ़

शराब में कीटनाशक दवा मिलाकर प्रेमी ने शादी शुदा प्रेमिका को मार डाला

दफनाए गए शव के कंकाल को उठाकर जंगल में फैंका, आरोपी को पुलिस ने भेजा जेल टीकमगढ़. निवाड़ी थाना क्षेत्र के काशीपुरा गांव की महिला को उसके प्रेमी ने शराब और कीटनाशक दवा पिलाकर मार दिया था। उसके बाद मृतिक के शव को जमीन में गाड़ दिया और उसका कपडे में कंकाल शव निकालकर सिनौनिया […]

टीकमगढ़Jul 10, 2024 / 11:03 am

akhilesh lodhi

पुलिस ने किया अंधे कत्ल का खुलासा।

पुलिस ने किया अंधे कत्ल का खुलासा।

दफनाए गए शव के कंकाल को उठाकर जंगल में फैंका, आरोपी को पुलिस ने भेजा जेल

टीकमगढ़. निवाड़ी थाना क्षेत्र के काशीपुरा गांव की महिला को उसके प्रेमी ने शराब और कीटनाशक दवा पिलाकर मार दिया था। उसके बाद मृतिक के शव को जमीन में गाड़ दिया और उसका कपडे में कंकाल शव निकालकर सिनौनिया जंगल हरदौल बाबा चबूतरे के पास फैंक दिया। जिसकी पहचान गुलाब देवी पाल के रूप में हुई। पुलिस ने अज्ञात पर हत्या का मामला दर्ज करके जांच शुरू कर दी थी। मृतिका के मोबाइल की लुकेशन से आरोपी प्रेमी को पकड़ा। उससे पूछताछ में अपराध कबूल किया, जहां पुलिस ने अंधे कत्ल का खुलासा करके आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेशकर जेल भेज दिया है।

एसपी डॉ. राय सिंह नरवारिया ने बताया कि काशीपुरा निवासी कालीचरन पाल ने निवाड़ी थाना में पत्नी गुलाब देवी पाल की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। कुछ दिन बाद एक अज्ञात महिला का शव सिनौनिया के जंगल में हरदौल बाबा के चबूतरा से आगे पुलिया के पास पड़ा मिला था। पुलिस ने शव का सूक्ष्मता से निरीक्षण किया और महिला की पहचान गुमशुदा गुलाब देवी पाल के रूप में हुई और शव परिजनों को सौंप दिया। साक्ष्यों के आधार पर पुलिस ने धारा 302, 201 के तहत मामला दर्ज करके जांच शुरू कर दी। एसपी ने बताया कि अज्ञात आरोपी ने पुलिस को गुमराह करने के उद्देशय से मृतिका का मोबाइल बंद नहीं किया और अलग-अलग स्थानों पर मोबाइल चालू करता रहा। तकनीकी साक्ष्यों की मदद से बारीकी से पूछताछ में आए तथ्यों के आधार पर संदेही मदन कुशवाहा की जानकारी मिली।

एसपी ने बताया कि मदन के मृतिका गुलाब देवी पाल से प्रेम संबंध थे। मृतिका की लाश मिलने के बाद से ही मदन घर से फ रार हो गया था। मुखबिर की सहायता से संदेही मदन कुशवाहा की तलाश कर गिरफ्तार किया। पूछताछ में अपराध स्वीकार किया। उसने बताया कि बताया कि मृतिका गुलाब देवी पाल को 30 मई को दुलावनी मंदिर से अपनी बाइक पर बैठाकर ले गया था। मृतिका को इधर उधर घुमाकर रात में अपने घर के पीछे कुआं खेत में बैठाकर अत्यधिक शराब पिलाई और शराब में कीटनाशक दवाई जहर मिलाकर पिला दिया। जिससे उसकी की मौत हो गई।
आरोपी ने मृतिका की लाश को छुपाने के लिए अपने खेत में गड्ढा बनाया और उसमें महिला की लाश को दफना दिया। उसके ऊपर एक ट्राली मिट्टी डलवा दी, ताकि कोई जानवर लाश को खोदकर निकाल न ले। आरोपी उसी स्थान पर चटाई डालकर करीब एक महीने से रोज रात्रि में लाश की रखवाली करने के उद्देश्य से सोता रहा। ताकि मृतिका का शव सङगल जाए और हड्डियां बची रहे। जिससे शव पहचान में न आ सके।

आरोपी द्वारा लगभग एक महीने बाद मृतिका के शव को रात के अंधेरे में खोदकर एक प्लास्टिक की बोरी में रस्सी से बांधकर पुलिया के पास फेंक दिया। पुलिस द्वारा आरोपी के बताए अनुसार उसके खेत में फ ॉरेंसिक टीम को साथ मृतिका के शव को पहली बार दफनाने के स्थान को खोदा गया। जिसमे मृतिका के शव का शेष बचा सड़ा गला मांस, हड्डी, चूडी, कंगन एवं बाल मिल। जिसे फ ॉरेंिसक जांच के लिए भेजा गया है। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया है।

Hindi News/ Tikamgarh / शराब में कीटनाशक दवा मिलाकर प्रेमी ने शादी शुदा प्रेमिका को मार डाला

ट्रेंडिंग वीडियो