Breaking News - टीकमगढ़ में सड़क हादसे में मां-बेटे एवं चाचा दर्दनाक मौत

फसल काटने खेत पर जाते समय हुआ हादसा, आक्रोशित ग्रामीणों ने लगाया जाम

By: anil rawat

Published: 02 Apr 2021, 04:17 PM IST

टीकमगढ़/जतारा. जतारा-टीकमगढ़ मार्ग पर हुए एक सड़क हादसें में मां-बेटे सहित चाचा की मौत हो गई। घटना सुबह 8.30 बजे के लगभग उस समय हुई जब तीन मृतक अपने खेत पर फसल काटने के लिए जा रहे थे। इनकी बाइक को एक कार के टक्कर मारने से घटना हुई। पुलिस ने मामला दर्ज कर तीनों का पीएम कराकर शव परिजनों के सुपुर्द कर दिए है। एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत से ग्राम हरपुरा में मातम छाया हुआ है।


शुक्रवार की सुबह हरपुरा निवासी धनीराम साहू 37 वर्ष अपनी मां भगवती साहू एवं चाचा जगदीश साहू 55 वर्ष के साथ हरपुरा तिगैला के पास स्थित अपने खेत पर फसल काटने जा रहे थे। यह तीनों बाइक पर सवार थे। इसकी बाइक तिगैला के पास पहुंची ही थी कि जतारा की ओर से आ रही कार क्रमांक एमपी 36 एमएल 7685 ने इनकी बाइक को जोरदार टक्कर मार दी। इस घटना में यह तीनों गंभीर रूप से घायल होकर सड़क पर बेसुध होकर गिर गए। तीनों के शरीर से लगातार खून बह रहा था और सड़क खून से गीली हो गई थी।



लगाया जाम
मौके पर उपस्थित लोगों ने जैसे ही घटना को देखा, तत्काल ही पुलिस को सूचना और मौके पर पहुंचे परिजनों के साथ ही आक्रोशित ग्रामीणों ने सड़क पर जाम लगा दिया। वहीं घटना की सूचना मिलते ही एसडीओपी योगेन्द्र सिंह भदौरिया, थाना प्रभारी हिमांशु चौब, तहसीलदार अखिलेश प्रजापति पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और आक्रोशित लोगों को समझाईश देकर घायलों को एम्बूलेंस की मदद से सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पहुंचाया। यहां पर डॉक्टरों ने मां एवं चाचा को मृत घोषित कर दिया, वहीं धनीराम को गंभीर अवस्था में जिला अस्पताल रेफर किया गया। जिला अस्पताल पहुंचने पर उपचार के दौरान धनीराम की भी मौत हो गई।


हत्या का मामला हो दर्ज
वहीं घटना के बाद आक्रोशित ग्रामीण एवं परिजन इसे जानबूझ कर की गई घटना बता रहे थे। परिजनों का आरोप था कि यह घटना जानबूझ कर की गई है। ऐसे में आरोपी के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया जाए। पुलिस ने जांच के बाद उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया, तब कहीं परिजन माने। वहीं पुलिस ने कार को जब्त कर लिया है, जबकि चालक फरार है।

 

बेटे के संबंध को जा रहे थे परिजन
वहीं बताया जा रहा है कि जिस वाहन से घटना हुई उसमें जतारा के व्यापारी विजय जैन सवार थे। कार उनके रिश्तेदार की थी और यह लोग अपने बेटे का विवाह तय करने के लिए जा रहे थे। तीन वाहन पहले निकल चुके थे और विजय जैन इस कार में सवार होकर जा रहे थे। उसी समय यह घटना हो गई। ऐसे में यह कार्यक्रम में भी कैंसिंल हो गया है।


गांव में मातम
वहीं एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत के बाद पूरे गांव में मातम सा छाया हुआ था। गांव में एक साथ जली तीन चिताओं से पूरे गांव में शोक की लहर दौड़ गई। जिस किसी को भी सूचना मिली वह मृतक परिवार के पास जा पहुंचा। शुक्रवार को पूरे गांव में कहीं भी चूल्हा नहीं जला और किसी ने काम नहीं किया। हर कोई घटना से दुखी दिखाई दे रहा था।

Show More
anil rawat Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned