किसी को गोभी का फूल चाहिए तो कोई मांग रहा संसद जाने की चाबी

किसी को गोभी का फूल चाहिए तो कोई मांग रहा संसद जाने की चाबी

vivek gupta | Publish: Apr, 22 2019 01:00:00 AM (IST) Tikamgarh, Tikamgarh, Madhya Pradesh, India

शिमला मिर्च से लेकर बासुुरी बजाने मांग रहे मौका

टीकमगढ़..जनता का मत लेकर कोई ऑटो रिक्शा से दिल्ली जाने की तैयारी कर रहा है तो कोई संसद में बैठने के लिए स्टूल का सहारा लेना चाहता है। वही चैन की बांसुरी बजाने के साथ कमल के फूल की तरह दिखने के कारण गोबी का फूल भी लेने को तैयार है। खास बात है कि रोजाना खाने में स्वाद देने वाली हरी मिर्च के साथ ही शिमला मिर्च लेने में किसी ने रूचि नही दिखाई है। हम बात कर रहे है लोकसभा चुनाव में निर्दलीय प्रत्याशियो को दिए जाने वाले चुनाव चिन्ह की। निर्वाचन आयोग के द्वारा राष्ट्रीय पार्टियो को दिए जाने वाले चुनाव चिन्ह के साथ ही निर्दलीय प्रत्याशियो को कुछ रोचक तो कुछ ऐसे चिन्ह दिए जाना है। जिन्हें पाने के लिए एक साथ कई प्रत्याशियो ने दावा किया है। टीकमगढ़ लोकसभा से चुनाव लड़कर संसद जाने के लिए १९ प्रत्याशियो ने नामांकन कर दिए है। सोमवार २२ अप्रैल को नाम वापिस लेने के बाद ईवीएम में दर्ज होने वालो के नाम के साथ ही उनके चिन्ह भी सामने आ जाएगें।

ऑटो रिक्शा और चाबी पर है जोर
नामांकन करने वाले निर्दलीय उम्मीदवारो को आयोग के द्वारा तीन चुनाव चिन्ह की मांग करने के अधिकार दिए गए है। जिसमें प्राथमिकता के आधार पर चिन्हो का आंवटन जिला निर्वाचन कार्यालय करेगा। ईवीएम में उभर कर दिखने की लालसा को लेकर प्रत्याशियो ने मुख्य रूप से स्टूल,चाबी के साथ ही बांसुरी और ऑटो रिक्शा पर किया है। आदर्श न्याय रक्षक पार्टी के प्रत्याशी नंदराम प्रजापति कहते है कि स्टूल पर उनका हक है। प्रदेश में अन्य स्थानो पर यही चिन्ह दिया गया है। लेकिन तीन चिन्ह भरे गए है। वही निर्दलीय राजा भैया प्रजापति कहते है कि वह तो गोबी का फूल चाहते है,वह भी इसलिए कि राष्ट्रीय पार्टी से मिलता है।

 

इसके साथ ही ऑटो रिक्शा के साथ ही कॉच का गिलास भी प्राथमिकता में है। राजा कहते है कि अधिकांश प्रत्याशियो की मांग है कि बांसुरी,चाबी और कॉच का गिलास मिल जाए। वही कुछ प्रत्याशी ऐसे भी है कि ऑटो रिक्शा कुछ हद तक साईकिल की तरह है।

मिर्च खाने नही कोई तैयार
निर्वाचन आयोग के द्वारा प्रत्याशियो को १९८ चुनाव चिन्ह आवंटित किए गए है। जिसमें ७ चिन्ह राष्ट्रीय पार्टियो के लिए आवंटित किए गए है। आयोग के द्वारा आवंटित किए जाने वाले चिन्हो में हरी मिर्च से लेकर बिस्कुट का स्वाद भी है। मौसम के अनुसार आइसक्रीम है तो बीमारी में दिया जाने वाला इंजेक्शन सिरींज भी शामिल है।

इसके साथ ही हाईटेक हो रहे चुनाव में कैमरा के साथ सीसीटीवी कैमरा,कम्प्यूटर,माउस के साथ ही पेनड्राइव भी शामिल है। खाने से भरी थाली के साथ टाफिया,सेब,मटर के साथ ही लेडीज पर्स,साइकिल का पम्प के साथ ही जूता भी शामिल है। लेकिन प्रत्याशियो के द्वारा इन चुनाव चिन्हो को लेकर रूचि नही दिखाई गई है।
कहते है कि
सभी प्रत्याशियो को तीन चुनाव चिन्ह मांगने का अवसर है। यदि कोई दो अभ्यर्थियो की मांग एक सी रहती है तो लॉटरी कराई जाएगी। आयोग के नियमो के अनुसार ही आवंटन किए जाएगें।
वंदना राजपूत एसडीएम और एआरओ टीकमगढ़

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned