स्कूल से बंक मारकर घूमने निकले दो छात्र कार की चपेट में आए, एक की मौत

स्कूल से बंक मारकर घूमने निकले दो छात्र कार की चपेट में आए, एक की मौत
Auto and car hit a highway on the highway on Sunday afternoon

Vishnu Kumar Soni | Updated: 12 Oct 2019, 10:00:00 AM (IST) Tikamgarh, Tikamgarh, Madhya Pradesh, India

बुझ गया घर का इकलौता चिराग. कार सवारों ने पहुंचाया अस्पताल

बल्देवगढ. स्कूल के रिसेज होते ही साइकिल उठाकर घूमने निकले दो छात्र रास्ते मंे कार की चपेट में आ गए। अनियंत्रित कार भी पेड़ से भिड़ गई। इसके बाद भी कार सवार युवक घायल छात्रों को पहले सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र फिर जिला अस्पताल टीकमगढ़ लेकर गए। पर तब तक गंभीर चोट होने के कारण एक छात्र की मौत हो गई। दूसरे छात्र की भी हालत गंभीर बनी हुई है।
हादसा छतरपुर रोड पर स्थित शासकीय स्कूल से कुछ ही दूरी पर हुआ। सूत्रों के अनुसार अवधेश पुत्र राजू अहिरवार और कमलेश पुत्र राममिलन अहिरवार दोनों निवासी कैलपुरा गांव के ही माध्यमिक शाला में कक्षा आठवीं में पढ़ाई कर रहे थे। शुक्रवार को दोपहर १ बजे स्कूल की रिसेज होते ही दोनों साइकिल लेकर बाहर निकले और बाजार की ओर चल पड़े।
स्कूल से आधा किलोमीटर दूर ही गए थे कि छतरपुर की ओर से आ रही कार क्रमांक एमपी १९ सीबी ६९७९ के चालक ने टक्कर मार दी। इस हादसे में दोनों छात्र गंभीर रूप से घायल हो गए।
कार सवार दो युवकों को घायल छात्रों को साथ लेकर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बल्देवगढ़ लेकर गए। जहां से जिला अस्पताल रेफर कर दिया तो कार सवारों ने उन्हंे वहां पहुंचाया। लेकिन कमलेश की रास्ते में ही मौत हो गई। अवधेश का अस्पताल में इलाज चल रहा है।
अस्पताल में छोड़ गए कार
दोनों छात्रों को कार सवार युवक जिला अस्पताल ले गए, लेकिन यहां पर एक की मौत हो जाने के बाद अस्पताल में ही अपनी कार छोड़कर भाग गए। इस बीच पुलिस की पूरी लापरवाही भी सामने आई है। प्रत्यक्षदर्शियों की माने तो घटना स्थल पर जब दोनों छात्र बेसुध पड़े थे, उस समय वहां से डायल 100 वाहन गुजरा था, लेकिन नहीं रुका। सूचना पर डायल 100 वाहन सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पहुंचा था। लेकिन वहां से घायलों के जिला अस्पताल निकल आने पर वापस लौट आया था। पुलिस ने वाहन को जब्त कर मामला दर्ज कर लिया हैं।

परिवार में इकलौता पुत्र था कमलेश
बताया जा रहा हैं कि कमलेश चार बहनों के बीच इकलौता पुत्र था। इस घटना के बाद से तो जैसे कमलेश के परिजनों पर बज्र टूट पड़ा हैं। इस घटना से पूरा गांव सदमे में हैं। विदित हो कि क्षेत्र में पिछले पांच दिनों में चार लोगों की सड़क दुर्घटनाओं में मौत हो चुकी हैं। 7 अक्टूबर को जहां खरगापुर विधायक राहुल सिंह के वाहन से 2 युवकों की मौत हो गई थी, वहीं गुरूवार को बुड़ेरा थाने के ग्राम डिकौली में उड़द निकाल रहे किसान को जीप ने रौंद दिया था।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned