scriptआंधी तूफान से वेयर हाउस के उडे शेड, किसानों को हुआ लाखों का नुकसान | Patrika News
टीकमगढ़

आंधी तूफान से वेयर हाउस के उडे शेड, किसानों को हुआ लाखों का नुकसान

सडक़ पर टूटा पड़ा ट्रांसफार्मर और बिजली पोल।

टीकमगढ़Jun 21, 2024 / 08:29 pm

akhilesh lodhi

सडक़ पर टूटा पड़ा ट्रांसफार्मर और बिजली पोल।

सडक़ पर टूटा पड़ा ट्रांसफार्मर और बिजली पोल।

ट्रासफार्मर, पोल और पेड़ टूटे, ककरवाहा रोड पर आधा घंटा लगा रहा जाम

टीकमगढ़.जिले में बडागांव धसान में गुरुवार की शाम को बारिश से पहले तेज आंधी ने कहर ढहाया। आंधी के बाद हुई बारिश ने गर्मी से राहत दी और किसानों को फ ायदा जरूर हुआ, लेकिन आधी बारिश में पेडों और बिजली के पोल गिरने से बिजली व्यवस्था ठप हो गई। वहीं ककरवाहा के वेयर हाउस के शेड उड़ गए और बारिश के पानी से काफी नुकसान हुआ हैं।
दोपहर बाद करीब ५ बजे अचानक से तेज हवा चलने लगी। जिसके 15 मिनट बाद ही यह हवा आंधी में तब्दील हो गई। इसके साथ ही बरसात शुरू हो गई। सबसे ज्यादा नुकसान बिजली कंपनी को हुआ है। ककरवाहा और ऊमरी तिगैला और वीरनगर रोड के पास पेड टूटकर बिजली लाइन पर गिरे और बिजली का पोल और ट्रांसफार्मर टूटकर जमीन पर गिर गए।
वेयर हाउस प्रबंधक ऋषभ कुमार जैन ने बताया कि शाम ५ बजे से हवा और हल्की बूंदाबांदी शुरू हो गई थी। देखते ही देखते वह माहौल आंधी तूफान में बदल गया। कुछ ही देर में वेयर हाउस के शेड हवा में उड़ गए। वेयर हाउस में रखा लाखों क्विंटल अनाज गीला हो गया। जिसमें किसानों और व्यापारियों को नुकसान होने की संभावना जताई जा रही हैं। मामले की सूचना वेयर हाउस के कर्मचारी मौके पर आए और खुल पड़े अनाज को सुरक्षित किया।
खेतों में खड़े ट्रांसफार्मर और पोल टूटे
आंधी तूफान से ककरवाहा मार्ग ऊमरी तिगैला और वीरनगर रोड पर खड़े दो ट्रांसफार्मर और एक दर्जन से अधिक बिजली के पोल टूट गए हैं। इसके साथ ही तार सडक़ और खेतों में फैल गए हैं। गुरुवार से आधा दर्जन से अधिक गांवों की बिजली सप्लाई बंद पड़ी हैं। बिजली जुडवाने की मांग पर बिजली कंपनी के कर्मचारियों ने टूट पोल की जगह नए पोलों को खड़ा करने का कार्य किया जा रहा हैं। वहीं सैकडों की संख्या में विभिन्न प्रजाति के पेड टूटकर सडक़ों पर आ गए हैं। इसके साथ टूटे पेड से बाइक चपेट में आ गई हैं।
कच्चे घरों को भी हुआ नुकसान
स्थानीय भगवान दास मिश्रा, नंदलाल सेन, काशीराम पटेल, गोरेलाल पटेल ने बताया कि आंधी तूफान से कच्चे घरों को नुकसान पहुंचा हैं। गनीमत यह रही कि तूफान के समय घरों के अंदर व्यक्ति नहीं थे। वहीं मवेशी भी सुरक्षित बताए जा रहे हैं। स्थानीय लोगों ने प्रशासन से मांग की है कि पेड, कच्चे मकान, वेयर हाउस में हुए नुकसान का सर्वे कराकर मुआवजा दिलाया जाए।

Hindi News/ Tikamgarh / आंधी तूफान से वेयर हाउस के उडे शेड, किसानों को हुआ लाखों का नुकसान

ट्रेंडिंग वीडियो