ग्रामीणों को काम देने और पेयजल व्यवस्था करने पहुंचे जनपद पंचायत के अधिकारी

पृथ्वीपुर जनपद पंचायत की ग्राम पंचायत मजल के बसाता खिरक में पेयजल संकट, मजदूरी नहीं मिली रही थी।

By: akhilesh lodhi

Published: 05 Apr 2021, 09:22 PM IST


टीकमगढ़. पृथ्वीपुर जनपद पंचायत की ग्राम पंचायत मजल के बसाता खिरक में पेयजल संकट, मजदूरी नहीं मिली रही थी। गांव में काम पाने के लिए सरपंच और सचिव से मांग की गई। लेकिन काम नहीं मिल रहा था। ग्रामीणों की समस्या को लेकर ५ अप्रेल के अंक में खबर का प्रकाशन किया। उसके बाद निवाड़ी प्रशासन हरकत में आया। कलेक्टर आशीष भागर्व के निर्देश पर जनपद पंचायत की टीम बसाता खिरक पहुंची। उस टीम ने प्रत्येक व्यक्ति से चर्चा की। ग्रामीणों की समस्या के समाधान के लिए एक हफ्ता में काम खोलने और पेयजल संकट दूर करने का आश्वासन दिया है।
पत्रिका पे सोमवार ५ अप्रेल के अंक में बसाता खिरक की समस्याओं को लेकर खबर का प्रकाशन किया। खबर प्रकाशित होते ही कलेक्टर ने पृथ्वीपुर जनपद पंचायत के रोजगार गारंटी के सहायक यंत्री, उपयंत्री, सचिव, पटवारी और सरपंच बसाता गांव पहुंचे। वहीं की समस्या को बारीकी से जाना। बुर्जुग महिलाओं से समस्याओं के बारे में चर्चा की।उन्होंने पेयजल संकट, गांव में मजदूरी की समस्या बताई। उन्होंने मौके पर पंचनामा बनाया। उसमें ग्रामीणों की समस्या को लिखकर जनपद पंचायत ले गए।
खराब हैंडपंपों में पाइप और नत्थू सौर के कुएं को किया जाएगा अधिग्रहण
बसाता खिरक में सहायक यंत्री मनरेगा ओम प्रकाश दुबे, उपयंत्री दीपक श्रीवास्तव, प्रेम नारायण सौर, पटवारी ने ग्रामीणों से चर्चा की। गांव के चारों ओर पेयजल के स्थानों को निरीक्षण किया। गांव के आसपास खराब पड़े हैंडपंपों का सुधार करने के साथ उसमें पाइप लाइन बढ़ाने से पेयजल उपलब्ध कराया जाएगा। इसके साथ ही गांव के नत्थू सौर के कुंए को अधिग्रहण किया जाएगा। जिससे ग्रामीणों को पेयजल समस्या का सामना नहीं करना पड़े।
एक हफ्ते के अंदर खोले जाएगें काम
रोजगार गारंटी के सहायक यंत्री ओपी दुबे ने बताया कि एक हफ्ते में गांव के पात्र हितग्राहियों को मेड बंधान का कार्य दिया जाएगा। इसके साथ ही अन्य निर्माण कार्यो की स्वीकृति दी जाएगी। गांव में जो १७ पीएम आवास अधूरे पड़े है। उनक ी तीसरी किश्त आ गई है। उनका काम जल्द ही शुरू किया जाएगा। जिससे गामीणों को मजदूरी करने बाहर नहीं जाना पड़े।


पलायन करनेेेेे वालों को बुलाए, दिया जाएगा काम
जांच टीम का कहना था कि जो लोग दुसरे जिलों में मजदूरी करने के लिए गए है। उनको घर पर बुलाए। उन्हें गांव में ही रोजगार दिया जाएगा। इसके साथ ही उनमें से पात्र हितग्राहियों को अन्य योजनाओं में लाभ दिया जाएगा। जिससे उन्हें मजदूरी करने के लिए बाहर नहीं जाना पड़े।
यह गांव की स्थिति
बसाता खिरक में गणना ३२५, परिवार ९८ , जनसंख्या ४२६, मतदाता १७८, जॉब कार्ड ६५, पीएम आवास ४५ और ४२ परिवार को रोजगार दिया जाएगा। १७ लोगों के आवास शेष है। जिनहे जल्द ही आवास का लाभ दिलाया जाएगा।

akhilesh lodhi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned