Chiranjeevi Sarja की मौत से टूटा परिवार, भाई के इमोशनल पोस्ट से भावुक हुए लोग

By: Pratibha Tripathi
| Updated: 11 Jun 2020, 05:16 PM IST
Chiranjeevi Sarja की मौत से टूटा परिवार, भाई के इमोशनल पोस्ट से भावुक हुए लोग
Chiranjeevi Sarja's brother Suraj shares heartbreaking post

कन्नड़ स्टार चिरंजीवी सर्जा(RIP Chiranjeevi Sarja) (39) का बेंगलुरु के एक प्राइवेट हॉस्पिटल में निधन हो गया।

उनके निधन की खबर से पूरी साउथ इंडस्ट्री सदमे में है।

नई दिल्ली। फिल्म इंडस्ट्री के लिए साल 2020 काफी मनहूस साल रहा है। क्योंकि इस साल भारतीय सिनेमा जगत ने कई दिग्गज स्टार्स को खोया है। अभी लोग उन महान सितारों की मौत से उबर भी नही पाए थे कि कन्नड़ स्टार चिरंजीवी सरजा (Chiranjeevi Sarja Death) की मौत ने हर किसी को एक बार फिर से हिलाकर रख दिया।

कन्नड़ स्टार चिरंजीवी सरजा (RIPChiranjeevi Sarja) की अचानक हुई मौत से ना केवल फिल्म इंडस्ट्री को सदमा लगा है बल्कि उनका परिवार भी पूरी तरह से टूट गया है। परिवार और चाहने वाले इस बात पर यकीन नहीं कर पा रहे हैं कि चिरंजीवी अब हमारे बीच नही है।

चिरंजीवी सरजा (chiranjeevi sarja passed away )रविवार को अपनी मौत से ठीक एक दिन आखिरी इंस्टाग्राम पोस्ट किया था। इस पोस्ट को शेयर करते हुए उनके चचेरे भाई सूरज (Suraj) ने अपने इंस्टाग्राम वॉल पर एक दिल को छू लेने वाला नोट लिखकर अपने दुख जाहिर किया है। तस्वीर में चिरंजीवी उनके अभिनेता भाई ध्रुव और सूरज को एक साथ देखे जा सकते है। इसी तस्वीरे के साथ एक काफी पुरानी भी है जो उनकी बचपन को जोड़ती है। इस तस्वीर को शेयर कर उनके भाई उन्हें याद करते नजर आ रहे है।

चिरंजीवी (Chiranjeevi Sarja last instagram post) ने अपने आखिरी पोस्ट को शेयर करते हुए लिखा था, 'तब और अब.. हम अभी भी वही हैं... क्या कहते हैं, दोस्तों?' इसी पोस्ट को शेयर करते हुए भाई सूरज ने भावुक कैप्शन लिखा. उन्होंने लिखा, 'अभी भी इस बात पर यकीन नहीं हो रहा कि, आप हमें छोड़ कर चले गए है और यह आपका आखिरी पोस्ट होगा। बहुत याद आओगे, भाई। कैसे बताऊं समझाने के लिए शब्द नहीं है।' इस पोस्ट को पढ़ने के बाद सोशल मीडिया पर काफी भावुक हो गए हैं।

बता दे कि चिरंजीवी सरजा (Chiranjeevi Sarja dies from heart attack) का 39 वर्ष की आयु में रविवार के दिन दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया था। उनका अंतिम संस्कार एक दिन बाद बेंगलुरु में उनके फार्महाउस में किया गया था।