युवाओं के जज्बे को देख गोशाला के लिए 11 बीघा भूमि कर दी दान

युवाओं के जज्बे को देख गोशाला के लिए 11 बीघा भूमि कर दी दान

 

By: pawan sharma

Published: 26 Jan 2021, 05:32 PM IST

टोंक. शहर के कुछ युवा इन दिनों घायल व बीमार गायों का उपचार अपने स्तर पर करा रहे हैं। उनके जज्बे को देखते हुए माली समाज के कददावर समाजसेवी कमलेश सिंगोदिया ने गोशाला के लिए 11 बीघा भूमि दान की है। ताकि युवा इस गोशाला में बीमार व घायल गायों की सेवा कर सके। इस राष्ट्रीय कामधेनू गोशाला का उद्घाटन रविवार को समारोह पूर्वक गोलडूंगरी सरवराबाद में किया गया। गोशाला के लिए राष्ट्रीय रक्षा संगठन के शहर अध्यक्ष कमलेश सिंगोदिया ने 11 बीघा भूमि दान की है।


शहर में एक युवाओं की टीम हादसे में घायल तथा बीमार गायों का उपचार अपने स्तर पर करा रही है। कुछ दिनों पहले ये युवा कमलेश सिंगोदिया से मिले। युवाओं के पास उपचार के साधन तो थे, लेकिन घायल व बीमार गाय को रखने की जगह नहीं थी। ऐसे में कमलेश सिंगोदिया ने सरवराबाद स्थित अपनी 11 बीघा भूमि युवाओं को गोशाला के लिए दे दी। इसमें वे शहर में घायल तथा बीमार होने वाली गायों को रखकर उपचार कर सकेंगे।

गोशाला के उद्घाटन के दौरान संगठन के जिलाध्यक्ष महंत सुरेश दुबे ने शुरुआत करते हुए गोमाता को राष्ट्रीय पशु घोषित करने पर विचार व्यक्त किए और गऊ शब्द को स्पष्ट किया। राष्ट्र हित में इसे सनातन संस्कृति का सर्वोपरि कार्य बताया।

इस अवसर पर संगठक संरक्षक पदमचंद जैन, महिला संगठन जिलाध्यक्ष मंजूलता शर्मा, सुमन शर्मा, मोनू शर्मा, आशा कुर्मी, शिव प्रताप पाटीदार, चन्द्रप्रकाश कुर्मी, बालकुमंूद कुर्मी, कैलाश शर्मा, अनिल शर्मा, ओमप्रकाश शर्मा, मनमोहन शर्मा, गौरव सोनी, मोहन गुप्ता, रामकिशोर शर्मा आदि मौजूद थे।

pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned