49 करोड़ की वसूली में लगे 400 कर्मचारी, भटक रहे हैं फरीयादी

विद्युत वितरण निगम टोंक के अभियंता व कर्मचारियों की फौज इन दिनों बकाया बिल राशि में लगी हुई है। ऐसे में कार्यालय पर आ रहे फरियादियों को भी भटकना पड़ रहा है, वहीं कार्यालय कार्य भी प्रभावित हो रहा है।

By: pawan sharma

Published: 17 Mar 2021, 07:39 AM IST

टोंक. विद्युत वितरण निगम टोंक के अभियंता व कर्मचारियों की फौज इन दिनों बकाया बिल राशि में लगी हुई है। ऐसे में कार्यालय पर आ रहे फरियादियों को भी भटकना पड़ रहा है, वहीं कार्यालय कार्य भी प्रभावित हो रहा है। निगम सूत्रों के अनुसार जिले में सरकारी-गैर सरकारी विद्युत कनेक्शनों पर कुल 49 करोड़ 13 लाख रुपए बकाया चल रहे है।

इनकी वसूली के लिए जिले के सभी अभियंताओं की टीम वसूली के लिए प्रतिदिन दौरा कर रही है। वहीं बिल राशि जमा करने के लिए अतिरिक्त दिन बढ़ाए जा रहे है। तथा मार्च माह में होली पर्व को छोड़ कर अन्य अवकाश भी निरस्त किए जा चुके है।

टोंक सहायक अभियंता प्रथम क्षेत्र में 9 करोड़ 62 लाख, द्वितीय क्षेत्र में 87 लाख 84 हजार, पीपलू सहायक अभियंता क्षेत्र में 79 लाख 30 हजार, उनियारा में 3 करोड़ 49 लाख, देवली में एक करोड़ 74 लाख, दूनी में एक करोड़ 14 लाख, टोडारायसिंह में एक करोड़ 57 लाख, निवाई प्रथम में तीन करोड़ 42 लाख, निवाई द्वितीय में तीन करोड़ 35 लाख, मालपुरा तीन करोड़ 10 लाख एवं डिग्गी में 96 लाख रुपए बकाया चल रहे है।

बकाया कनेक्शन धारकों को बिल जमा नहीं करवाए जाने पर कनेक्शन काटे जाने के नोटिस भी जारी किए गए है। वहीं इसके अलावा सत्र 2019-20 के भी 28 करोड़ 58 लाख रुपए विभिन्न कनेक्शन पर बाकी है।

डीएलबी पर 21 करोड़ बकाया

निगम के जिले में सबसे अधिक नगर परिषद टोंक के अलावा विभिन्न नगर पालिकाओं पर 21 करोड़ 35 लाख रुपए बकाया है। इस बड़ी राशि के वसूली किए जाने के निगम की ओर से प्रयास जारी है। इसके अलावा जलदाय विभाग पर चार करोड़ 31 लाख, जिले के सरपंचों द्वारा जारी विभिन्न विद्युत कनेक्शनों पर 68 लाख, जनता जल योजना पर 38 लाख एवं चिकित्सा विभाग पर 27 लाख बकाया हैं।

भटक रहे फरियादी

निगम अधिशासी, सहायक एवं कनिष्ठ अभियंता इन दिनों विभिन्न टीम गठित कर बकाया राशि वसूली में लगे हुए है। ऐसे में कनेक्शन जारी करवाने, बिल राशि में संशोधन करवाने, मीटर जांच करवाने सहित कार्यालय कार्य के लिए आने वाले फरियादियों को भटकना पड़ रहा है।


एक मेगावाट प्लांट होगा स्थापित

टोंक. जिले में प्रधानमंत्री कुसुम योजना के तहत छान में एक मेगावाट को सोलर एनर्जी प्लांट स्थापित किया जा रहा है। प्रदेश में एक-एक मेगावाट के 37 प्लांट स्थापित किए जाने है, जिसमें टोंक व पाली में कार्य जारी है। जल्द ही कार्य पूरा होने पर इससे उत्पादित होने वाली विद्युत डिस्कॉम को बेची जाएगी। जानकारी अनुसार छान में करीब साढ़े तीन करोड़ की लागत से आठ बीघा में सोलर एनर्जी प्लांट लगाया जा रहा है।

इस प्लांट से करीब दो किलोमीटर दूर छान जीएसएस तक कोटा के संवेदक की ओर से विद्युत लाइन बिछाई जाएगी। इस प्लांट से उत्पादित होने वाली विद्युत निगम को तय दर पर बेची जाएगी। वहीं प्लांट पर निजी कम्पनी के कर्मचारी भी देखरेख के लिए नियुक्त होंगे।

निगम का बकाया राशि वसूली अभियान चला हुआ है। तीस से अधिक टीम विभिन्न अभियंताओं के साथ जुटी हुई है। अन्य कार्य सुचारू रूप से हो रहे है।
जितेन्द्र कुमार मिश्रा, अधीक्षण अभियंता, विद्युत वितरण निगम, टोंक

pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned