टोंक: जिले में पंचायत चुनाव के लिए 8 लाख मतदाता करेगें मतदान

टोंक: जिले में पंचायत चुनाव के लिए 8 लाख मतदाता करेगें मतदान

 

By: pawan sharma

Updated: 17 Nov 2020, 04:38 PM IST

टोंक. पंचायतराज चुनाव के तहत जिला परिषद व पंचायत समिति सदस्यों को जिले के 8 लाख 13 हजार 541 मतदाता मतदान करेंगे। निर्वाचन विभाग ने जिले में 1117 मतदान केन्द्र बनाए हैं। जिले में पंचायत समिति के 135 तथा जिला परिषद के 25 सदस्यों के लिए चार चरणों में चुनाव होगा।

निर्वाचन विभाग के मुताबिक टोंक में 87414, निवाई में 144359, पीपलू में 84584, मालपुरा में 152473, टोडारायसिंह में 94321, उनियारा में 113408 तथा देवली क्षेत्र में 136982 मतदाता है। निर्वाचन विभाग ने टोंक में 119, निवाई में 197, पीपलू में 124, मालपुरा में 196, टोडारायसिंह में 130, उनियारा में 162 तथा देवली में 189 मतदान केन्द्र बनाए हैं। टोंक पंचायत समिति के 19, निवाई के 21, पीपलू के 21, मालपुरा के 23, टोडारायसिंह के 15, उनियारा के 17 तथा देवली के 21 सदस्यों के लिए चुनाव होगा।


पहली बार हो रहे पंचायत समिति के चुनाव
पीपलू पहली बार हो रहे पंचायत समिति के चुनाव जिले में सबसे रोचक होने की संभावना हैं। पीपलू पंचायत समिति में 25 ग्राम पंचायतों को मिलाकर 19 वार्ड बनाए गए हैं। कोरोना के चलते क्षेत्र में इस बार 99 बूथ से बढ़ाकर 124 बूथ किए गए हैं।


प्रिंसिपल कर रहा प्रचार, पुत्रवधु का जिताने की अपील

पीपलू (रा.क.). पीपलू पंचायत समिति के वार्ड नंबर 19 से कांग्रेस की प्रत्याशी ममता देवी के पक्ष में उसके ससुर एवं राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय संदेड़ा के प्रधानाचार्य पन्नालाल बैरवा आचार संहित का उल्लंघन करते हुए प्रचार प्रसार में जुटे हैं। पन्नालाल बैरवा ने अपनी पुत्रवधु को जिताने की अपील करने के पूरे वार्ड में पोस्टर छपवाकर भी चस्पा करवाए हैं।

रिटर्निंग अधिकारी (पंचायत) एवं एसडीएम पीपलू रवि वर्मा ने इस मामले में राउमावि संदेड़ा के प्रधानाचार्य पन्नालाल बैरवा को कारण बताओ नोटिस जारी किया हैं, जिसमें उनके द्वारा वार्ड संख्या 19 के प्रत्याशी ममता देवी के पक्ष में मतयाचना एवं प्रचार प्रसार के कृत्य को राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा लगाई गई आदर्श आचरण संहित का उल्लंघन माना है।

साथ ही कहा कि वह लोकसेवक है ऐसे में उक्त कृत्य राजकार्य के प्रति गंभीर लापरवाही का द्योतक है। इस संबंध में प्रधानाचार्य को व्यक्तिश: उपस्थित होकर स्पष्टीकरण प्रस्तुत करने के निर्देश दिए हैं। स्पष्टीकरण पेश नहीं करने पर एसडीएम द्वारा इसकी रिपोर्ट बनाकर जिला निर्वाचन अधिकारी को अग्रिम कार्रवाई के लिए प्रेषित की जाएगी।

Show More
pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned