टोंक में 91 हजार बच्चे ऑन लाइन कर रहे पढ़ाईं

जिले में स्कूल 1381: कक्षा एक से बारह तक के बच्चे जुडऱ्े

By: Vijay

Published: 28 May 2020, 10:00 AM IST

टोंक में 91 हजार बच्चे ऑन लाइन कर रहे पढ़ाइ

टोंक. कोरोना महामारी के चलते लगे लॉक डाउन से शिक्षा के क्षेत्र में संचार क्रांति का प्रवेश हो गया है। शिक्षा विभाग की ओर से शुरू की गई ऑन लाइन शिक्षा के जिले के गांव-ढाणी तक के बच्चे जुड़ चुके है और शिक्षा ग्रहण कर रहे है।
जानकारी अनुसार कक्षा एक से बारह तक के बच्चों के लिए शुरू किए गए सोशल मॉनिटरिंग इनिशिटिव लर्निंग इंगेजमेंट(स्माइल) शिक्षा कार्यक्रम में जिले की १३८१ प्राथमिक, उच्च प्राथमिक, माध्यमिक व उच्च माध्यमिक विद्यालय स्तर के ९१ हजार बच्चे जुड़ कर शिक्षा ग्रहण कर रहे है। वहीं शिक्षा विभाग के अधिकारी इसकी नियमित मॉनिटरिंग भी कर रहे है। विभाग के आदेश के बाद शिक्षकों ने कक्षा वार बच्चों के अभिभावकों के नम्बरों का ग्रुप बना रखा है। इस ग्रुप में नियमित रूप से विषय वार राज्य स्कूल शिक्षा परिसर से उपलब्ध करवाई जाने वाली शैक्षक्षिक सामग्री डाली जा रही है।
महत्वपूर्ण बात यह है कि उपलब्ध शैक्षणिक सामग्री सरल भाषा में होने के कारण बच्चों को आसानी से समझ में भी आ रही है। विभाग की ओर से रेडियो पर हवामहल एवं शिक्षा वाणी शिक्षा कार्यक्रम भी जारी कर रहे है। वहीं एक जून से डीडी राजस्थान पर तीन घंटे से अधिक शिक्षा दर्शन कार्यक्रम प्रसारित किया जाएगा।
यूं हो रही मॉनिटरिंग
राज्य स्कूल शिक्षा परिसर जयपुर की ओर से प्रदेश भर के मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी व अतिरिक्त जिला परियोजना समन्वयक, समग्र शिक्षा का एक व्हाटसऐप ग्रुप बना रखा है। इसमें सुबह करीब आठ बजे कक्षा एक से बारह तक की विषय बार शैक्षणिक सामग्री के लिंक डाले जाते है। यहां से यह लिंक ब्लॉक स्तरीय अधिकारियों को एवं वहां से पंचायत ्रप्रभारी शिक्षकों को भेजे जाते है, जहां से यह सभी शिक्षकों के माध्यम से बच्चों तक पहुंचते है। वहीं बच्चों के ऑनलाइन शिक्षा ग्रहण करने की फोटो भी शिक्षकों को उच्चाधिकारियों को पहुंचानी होती है।

ऑल लाइन शिक्षा अध्ययन में बच्चों मेटर सेव कर एक बार में समझ में नहीं आने पर दुबारा समझ सकते है। वहीं योजना का फीडबेक भी अच्छा मिल रहा है। वहीं सभी शिक्षक बच्चों को अध्ययन में सहायता कर रहे है।
ओमप्रकाश तोषनीवाल, अतिरिक्त जिला परियोजना समन्वयक, समग्र शिक्षा, टोंक

Vijay Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned