विवाहिता को दस्तायाब करने गई  पुलिस पर किया जानलेवा हमला, महिला उपनिरीक्षक सहित कांस्टेबल घायल

विवाहिता को दस्तायाब करने गई  पुलिस पर किया जानलेवा हमला, महिला उपनिरीक्षक सहित कांस्टेबल घायल

pawan sharma | Publish: Jul, 13 2018 05:54:46 PM (IST) Tonk, Rajasthan, India

हमले में घायलों को स्थानीय राजकीय सामुदायिक अस्पताल में भर्ती करवाया। जिनकी उपचार के बाद छुट्टी दे दी।

निवाई. टोंक . निवाई थाना पुलिस के गुरुवार को बाढ़ झोपड़ी बैरवा ढाणी में एक विवाहिता को दस्तयाब करने के दौरान परिजनों एवं रिश्तेदरों ने महिला पुलिस उप निरीक्षक नरेश कंवर एवं एक कांस्टेबल गंगासहाय पर जानलेवा हमला कर दिया।

राजस्थान कांस्टेबल भर्ती परीक्षा 2018: इस महिला IPS अफसर की रहेगी 'अग्निपरीक्षा', जानें क्यों

दोनों के सिर पर गंभीर चोटें आई है। मामले में पुलिस ने राजकार्य में बाधा एवं जानलेवा हमला करने के मामले में 6 महिलाओं को गिरफ्तार कर लिए है। झोपड़ी गांव के पास स्थित बैरवा की ढाणी निवासी मुकेश बैरवा ने 6 जुलाई को दर्ज करवाया था कि वह 6 जुलाई को अपनी पत्नी पिंकी के साथ कार से राहोली की ओर जा रहा था।

राजस्थान पुलिस कांस्टेबल भर्ती के लिए पुलिस व प्रशासन दोनों सतर्क, आप भी जानें कैसी हैं तैयारियां

 

 

इस दौरान जीतू, नेमीचंद, हरिराम व मुकेश सहित कई लोगों ने उसकी कार के टक्कर मारकर उसकी पत्नी को ले गए। मामले में शुक्रवार सुबह पुलिस उप निरीक्षक नरेश कंवर मय पुलिस जाब्ते के साथ आरोपियों को गिरफ्तार करने के लिए ढाणी में पहुंची।

 

जहां पर पुलिस उप निरीक्षक कंवर आरोपित जीतू से पूछताछ करने के दौरान उन पर पिंकी के परिजन, रिश्तेदार अन्य लोगों ने पत्थर एवं लाठियों से हमला कर दिया, जिसे नरेश कंवर व पुलिसकर्मी गंगा सहाय घायल हो गए।

 

थाना प्रभारी रामजीलाल ने बताया कि नरेश कंवर के सिर पर तीन टांके आए है एवं कांस्टेबल गंगा सहाय भी गंभीर रूप से घायल हो गया। आरोतिपों की संख्या अधिक होने पर पुलिस वापस आ गई। दोनों घायलों को राजकीय सामुदायिक अस्पताल में भर्ती करवाया, जिनकी उपचार के बाद छुट्टी दे दी गई।

 

इसके बाद वापस थानाप्रभारी के नेतृत्व में पुलिस बल गांव पहुंचा और आरोपियों की धरपकड़ शुरू की। इस दौरान पुरुष आरोपित फरार हो गए। घरों में मिली छह महिला आरोपित शांति, सीता, गुलाब, बिरधी, कमला व सीता को गिरफ्तार किया है।

 

पुलिस उप निरीक्षक नरेश कंवर एवं पुलिसकर्मी गंगा सहाय ने दर्ज करवाया कि हरिनारायण, बद्री, रामजीलाल सुरज्ञान, हीरालाल, दयाराम, बनवारी, मनोज, शंकरलाल, नेमीचंद, मुकेश, शांति, सीता, गुलाब, बिरधी, कमला, सीता निवासी झोपड़ी की बैरवा की ढाणी, जीतू निवासी कैरोद, राजेश निवासी डांगरथल एवं ओमप्रकाश निवासी सूरतपुरा सहित 5-7 अन्य लोगों ने उन पर जानलेवा हमला बोल दिया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned