लॉकडाउन में अप डाउन करने वाले कार्मिकों के खिलाफ होगी कार्रवाई

कोरोना महामारी कोविड-19 के संकट के बीच उपखण्ड क्षेत्र में बाहर से आने वाले 8 रास्तों पर चैक पोस्ट पर रोक के बावजूद अप डाउन करने वाले कार्मिकों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

By: pawan sharma

Updated: 18 Apr 2020, 06:32 PM IST

टोडारायसिंह. कोरोना महामारी कोविड-19 के संकट के बीच उपखण्ड क्षेत्र में बाहर से आने वाले 8 रास्तों पर चैक पोस्ट पर रोक के बावजूद अपडाउन करने वाले कार्मिकों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। उपखण्ड अधिकारी डॉ. सूरजसिंह नेगी ने बताया कि उपखण्ड के चैक पोस्टों पर लोगों के आवागमन पर रोक है।

प्रत्येक चैक पोस्ट पर 8-8 घन्टे के अन्तराल से कार्मिकों की ड्यूटी लगाई जाकर पूर्ण चौकसी बरती जा रही है। इधर, कस्बे में गत 2अप्रेल से नगरपालिका क्षेत्र टोडारायसिंह एवं नगर परिषद क्षेत्र टोंक में कफ्र्यू प्रभावी है। चैक पोस्ट से प्राप्त सूचना के अनुसार टोंक जिला मुख्यालय से टोडारायसिंह उपखण्ड में कुछ कार्मिक अप-डाउन कर रहें है।

जिनमें पीएचसी कलमण्डा में कार्यरत मुकेश जाट, सीडीपीओ टोंक मेंमुकेश चौधरी, पीएचसी बरवास में शिव अवतार गुर्जर, चिकित्सा विभाग में मन्नालाल मीणा, एसबीआई टोंक में रामफूल गुर्जर, पशुधन सहायक बरवास में महेश शर्मा, राउमावि नानेर में सुरेन्द्र साहू, अनिश अख्तर, हामिद अहमद, चिकित्सा विभाग में रविकान्त कसोटिया, दिनेश कसोटिया, श्रीकान्त कसोटिया, यूनानी चिकित्सालय में अवधेश शर्मा, चिकित्सा में रमेश चन्द झारोटिया, सहकारिता विभाग में मुकेश कुमार, भूमि विकास बैंक में बनवारी लाल प्रजापत, पीएचसी खरेड़ा में इकबाल एवं गोविन्दराम बैरवा आदि टोंक मुख्यालय से प्रतिदिन अप-डाउन कर रहे है।

जिनको कार्यवाही करने एवं अप-डाउन नहीं करने के लिए सम्बन्धित कार्यालयाध्यक्ष को भी लिखा जा चुका है। डॉ. नेगी ने बताया कि सभी चैक पोस्टों पर सबंधित कार्मिकों की आवाजाही पर रोक लगाने तथा कार्यवाही करने की हिदायत दी है।


तहसीलदार के हस्तक्षेप से एम्बुलेंस कर्मचारियों को राहत
देवली. कोरोना के संक्रमण के दौर में रोगियों व संदिग्धों को लाने व ले जाने का काम कर रहे एम्बुलेंस कर्मचारियों को बीसलपुर कॉलोनी के लोगों की उपेक्षा का सामना करना पड़ा। जहां कॉलोनीवासियों ने एम्बुलेंस कर्मचारियों को कॉलोनी से जाने को कहा। इस पर देवली तहसीलदार रमेश कुमार जोशी ने मामले में हस्तक्षेप का कर्मचारियों को राहत दिलाई।

दरअसल एम्बुलेंस 108, 104 व बेस एम्बुलेंस के आधा दर्जन कर्मचारी बीसलपुर कॉलोनी स्थित क्वार्टर में रहते है। इनमें नर्सिंगकर्मी व वाहन चालक शामिल है, लेकिन लॉक डाउन के बाद से वहां के कुछ लोग कर्मचारियों व एम्बुलेंस के कॉलोनी में आने का विरोध करने लगे। लोग उलाहना दे रहे थे कि कर्मचारियों के कॉलोनी में आने से उनमें संक्रमण का खतरा मंडरा रहा है।

इससे आहत होकर कर्मचारियों ने देवली तहसीलदार रमेश कुमार जोशी को सूचना दी। इसके बाद देवली थाना पुलिस ने कर्मचारियों व लोगों को बुलाया तथा कॉलोनी के लोगों को समझाइश की। पुलिस ने समझाया कि एम्बुलेंसकर्मी आमजन की ही सेवा कर रहे है। ऐसे में उनके साथ इस तरह का बर्ताव ठीक नहीं है। उन्होंने कॉलोनीवासियों व कर्मचारियों से समझाइश कर मामला शांत कराया।

Corona virus
pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned