scriptAfter the enmity of Hamela of Rajsamand, Tokarwas of Tonk district is | राजसमंद के हामेला के वैर के बाद टोंक जिले का टोकरावास भी शराबबंदी की ओर अग्रसर | Patrika News

राजसमंद के हामेला के वैर के बाद टोंक जिले का टोकरावास भी शराबबंदी की ओर अग्रसर

युवाओं की मुहिम लाने लगी रंग : प्रशासन को करवा चुके हंै अवगत

टोंक

Updated: January 16, 2022 02:40:58 pm


दूनी. राजस्थान के छह गांवों में अब तक लोकतांत्रिक प्रक्रिया के तहत छह गांवों में शराबबंदी हो चुकी है। वर्ष २०२१ में थानेटा, बरार व हामेला के वैर में लोगों को मतदान प्रक्रिया द्वारा शराबबंदी करवाए जाने में सफलता मिल चुकी है। वहीं अब इनके प्रेरणा लेकर नशे का कहर झेल चुके टोंक जिले की दूनी तहसील क्षेत्र के टोकरावास गांव के युवा सहित ग्रामीणों ने गांव में पूर्णतया शराबबंदी कर नशे से मुक्त कराने का निर्णय ले जागरुकता अभियान चलाया है। युवाओं की जागरूक पहल के बाद गांव में शराब व अन्य नशे का अवैध कारोबार बंद हो चुका है, लेकिन कई बार स्थानीय अधिकारियों से जिला कलक्टर तक गुहार करने पर भी गांव के मुख्य मार्ग एवं विद्यालय के समीप खुली अनुबंधित शराब की दुकान बंद नहीं होने से नाराजगी बनी है। उल्लेखनीय है कि गांव को नशामुक्त एवं समृद्ध बनाने को लेकर टोकरावास के दर्जनों शिक्षित युवाओं ने वर्तमान एवं पूर्व जनप्रतिनिधियों सहित वृद्धजनों से रायशुमारी कर पूर्णतया शराबबंदी की योजना बनाई। युवाओं ने शराबबंदी की पहली सामूहिक जागरुकता बैठक 30 दिसंबर को आयोजित कर ग्रामीणों के समक्ष गांव को नशे से मुक्त करने करने का प्रस्ताव रखा। ग्रामीणों ने एक स्वर में नशे के कारोबार को बंद करने में सहयोग करने को हाथ खड़े कर समर्थन कर दिया। इसके युवाओं सहित ग्रामीणों ने घर-घर जाकर नशा नहीं करने को जागरूक कर हस्ताक्षर अभियान चलाया और 31 दिसम्बर को देवली एसडीओ भारतभूषण गोयल व दूनी थानाप्रभारी रमेशचंद मीणा को ज्ञापन सौंप गांव में पूर्णतया अवैध एवं वैध शराब बंद करने की मांग की। इसके बाद सामाजिक स्तर पर दबाव बना कारोबारियों से कारोबार बंद करने की गुहार करने पर अधिकतर कारोबारी अवैध कार्य बंदकर ग्रामीणों के समर्थन में आ गए। हालांकि देवली-उनियारा विधायक, जिला कलक्टर, देवली एसडीओ, दूनी कार्यवाहक तहसीलदार, आबकारी निरीक्षक को ग्रामीणों व युवाओं ने 10 जनवरी को ज्ञापन सौंप गांव के बीच व विद्यालय के समीप अनुबंधित शराब दुकान पूर्णतया बंद कराने की मांग पर सिर्फ आश्वासन मिला।
युवा घर-घर जाकर कर रहे जागरूक
टोकारावास गांव में पूर्णतया शराबबंदी की मुहिम से जुड़े दर्जनों युवा प्रतिदिन घर-घर जाकर शराब नशे का त्यागकर मुहिम सफल बना गांव को खुशहाल एवं समृद्ध बनाने को जागरूक कर रहे है। उल्लेखनीय है कि युवाओ एवं ग्रामीणों की ओर से गांव में पूर्णतया शराबबंदी का निर्णय लेने के बाद दूनी थानाप्रभारी रमेशचंद मीणा जाप्ते सहित गांव में जाकर लोगों को जागरूक कर मुहिम में सहयोग कर रहे है। शराबबंदी की मुहिम में गांव की महिलाएं शामिल होकर समर्थन कर रही है। ग्रामीणों ने बताया की निर्णय के बावजूद गांव में कोई व्यक्ति अवैध नशे का कारोबार एवं सेवन करता पाया जाता है तो उस पर अर्थदण्ड लगाने के साथ ही सामाजिक कार्रवाई भी अमल में लाई जाएगी।
यह प्रक्रिया है शराबबंदी की
शराबबंदी की प्रक्रिया में अनिवार्यता प्रथम चरण में ग्राम पंचायत की मतदाता सूची में शामिल 20 प्रतिशत मतदाताओं के हस्ताक्षर करवाए जाते हैं। हस्ताक्षरों का सत्यापन करवाया जाता है। सत्यापन के बाद शराबबंदी के लिए मुख्यमंत्री के नाम एसडीएम या जिला कलेक्टर को ज्ञापन दिया जाता है। अंतिम चरण में शराबबंदी को लेकर गांव में मतदान करवाया जाता है। लोगों से शराबबंदी के पक्ष व विपक्ष में वोङ्क्षटग करवाई जाती है। उसी आधार पर फैसला होता है। शराबबंदी के पक्ष में ज्यादा वोट पडऩे पर वित्तीय वर्ष की समाप्ति तक तो यही शराब की दुकान जारी रहती है, लेकिन नए वित्तीय वर्ष में शराब की दुकान आवंटित ही नहीं की जाती।
राजसमंद के हामेला के वैर के बाद टोंक जिले का टोकरावास भी शराबबंदी की ओर अग्रसर
राजसमंद के हामेला के वैर के बाद टोंक जिले का टोकरावास भी शराबबंदी की ओर अग्रसर
कार्रवाई के लिए विभाग को भेजा है
&शराबबंदी को लेकर होने वाली मतदान प्रक्रिया की जानकारी है, लेकिन यह आबकारी विभाग का मामला है। ग्रामीणों ने ज्ञापन दिया गया था, जिसे कार्रवाई के लिए जिला कलक्टर व आबकारी विभाग को भेज दिया।
-भारतभूषण गोयल एसडीओ, देवली
कार्रवाई की जा रही है
&ग्रामीणों की ओर से गांव में पूर्णतया शराबबंदी को लेकर शराब की दुकान बंद करने को ज्ञापन दिया गया था, इसके बाद मिले उच्चाधिकारियों के निर्देश पर कार्रवाई की जा रही है।
देवेन्द्र कोर निरीक्षक आबकारी विभाग, देवली

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

सीएम Yogi का बड़ा ऐलान, हर परिवार के एक सदस्य को मिलेगी सरकारी नौकरीचंडीमंदिर वेस्टर्न कमांड लाए गए श्योक नदी हादसे में बचे 19 सैनिकआय से अधिक संपत्ति मामले में हरियाणा के पूर्व CM ओमप्रकाश चौटाला को 4 साल की जेल, 50 लाख रुपए जुर्माना31 मई को सत्ता के 8 साल पूरा होने पर पीएम मोदी शिमला में करेंगे रोड शो, किसानों को करेंगे संबोधितराहुल गांधी ने बीजेपी पर साधा निशाना, कहा - 'नेहरू ने लोकतंत्र की जड़ों को किया मजबूत, 8 वर्षों में भाजपा ने किया कमजोर'Renault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चIPL 2022, RR vs RCB Qualifier 2: राजस्थान ने बैंगलोर को 7 विकेट से हराया, दूसरी बार IPL फाइनल में बनाई जगहपूर्व विधायक पीसी जार्ज को बड़ी राहत, हेट स्पीच के मामले में केरल हाईकोर्ट ने इस शर्त पर दी जमानत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.