आखातीज पर होगा: माली समाज का विवाह सम्मेलन

आखातीज पर होगा: माली समाज का विवाह सम्मेलन

Mohan Lal Kumawat | Publish: Apr, 23 2019 01:41:28 PM (IST) | Updated: Apr, 23 2019 01:41:29 PM (IST) Tonk, Tonk, Rajasthan, India

जोड़ों का पंजीयन किया जा चुका है। सम्मेलन के लिए 51 जोडों का लक्ष्य रखा गया है।

टोंक. सदर फूल माली (सैनी) समाज टोंक की ओर से गोल डूंगरी सरवराबाद में सामूहिक विवाह सम्मेलन 7 मई क ो होगा। इसमें अब तक 30 जोड़ों का पंजीयन किया जा चुका है।

 

सम्मेलन के लिए 51 जोडों का लक्ष्य रखा गया है। मंत्री राजेश सैनी ने बताया कि सम्मेलन के लिए जोड़ों का पंजीयन 30 अप्रेल तक किया जाएगा। पंजीयन मालियों की धर्मशाला पंचकुइया दरवाजा में किए जा रहे हैं।

 


ध्वजारोहण में उमड़ा सैलाब
आवां. सदर फूल माली सैनी समाज आवां के तत्वावधान में पीपल पूर्णिमा के अवसर पर 18 मई को अखनेश्वर परिसर में प्रथम आदर्श सामूहिक विवाह सम्मेलन को लेकर तैयारियां जोरो से चल रही है।

 

सम्मेलन को लेकर सोमवार को मन्त्रोचार के साथ प्रथम पूज्य गणेश की वन्दना करने के बाद शोभायात्रा निकाली गई। इसके बाद अखनेश्वर मंदिर परिसर में सम्मेलन के लिए ध्वजारोहण का कार्यक्रम रखा गया। इन आयोजनों में समाज के लोगों का सैलाब उमड़ पड़ा।

 

मोहन लाल, भंवर लाल, रामवतार और पारस सैनी ने बताया कि श्री सत्यनाराण भगवान के मंदिर से कस्बे के सदर बाजार होती हुई अखनेश्वर महादेव मंदिर तक निकाली शोभा यात्रा में श्रद्धालुओं ने भक्ति नृत्य किया।

 

इस दौरान घोड़े पर सवार होकर धर्म की पताकाएं भी लहराई गई। महिलाओं ने परम्परागत मंगल गीत गाए। ध्वजारोहण के बाद यहां कार्यकताओं की बैठकें हुई जो देर शाम तक चली।

 

सम्मेलन समिति के उपाध्यक्ष गोवर्धन सैनी और प्रकाश सैनी ने बताया कि कस्बे की मालियों की धर्मशाला मे कार्यालय बनाकर विवाह के लिए पंजीयन का कार्य शुरू कर दिया गया है, जिसकी अन्तिम तिथि 8 मई रखी गई है।

 


ठाकुरजी व पीपल के विवाह सम्पन्न
निवाई. निकटवर्ती गांव रजवास में सोमवार को ठाकुरजी एवं पीपल माता का विवाह कई अनुष्ठानों को साथ सोमवार को सम्पन्न हुआ। इस अवसर पर महिलाओं ने मांगलिक गीत भी गाए।

 

भागचन्द बैरवा ने बताया कि सोमवार को गांव रजवास में ठाकुरजी एवं पीपल माता के विवाह का आयोजन किया जाएगा। ठाकुरजी की बारात सोमवार को राधाकृष्ण मंदिर से गाजे-बाजे के साथ मुख्य बाजार से रवाना हुई, जिसमें श्रद्धालुओं ने आतिशबाजी की।

 

इस दौरान जगह-जगह बारात को पुष्पवर्षा करके स्वागत किया। बारात दोपहर बाद सामुदायिक भवन रजवास पहुंची। जहां तोरण मारकर अनेक अनुष्ठानों के साथ पाणिग्रहण संस्कार की रस्म की गई।

 

इस अवसर पर लक्ष्मीनारायण बैरवा, सीताराम बैरवा, भागचंद बैरवा, कन्हैयालाल, शंकरलाल बैरवा, चिरंजीलाल मधुकर एवं अजय मधुकर सहित कई लोग मौजूद थे।

 


श्रद्धा का सैलाब उमड़ा
टोडारायसिंह. कस्बे में वैशाख चतुर्थी पर कटला स्थित चौथ माता मंदिर में महिला श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ी चौथ पर सोमवार को प्राचीन मंदिर में चौथ माता की झांकी सजाई गई।

 

इधर सुबह से महिला श्रद्धालुओं की मंदिर में माता के दर्शनार्थ भीड़ बढऩे लगी। कस्बे में महिलाओं की आवाजाही से मेले जैसा माहौल रहा महिलाओं ने मंदिर में माता के दर्शन कर प्रसाद चढ़ाया तथा अपने पति की दीर्घायु की कामना की इस अवसर पर महिलाओं ने श्रद्धा से मंदिर में परिक्रमा कर समूह में बैठकर कथा श्रवण किया। महिलाओं मंदिर में पहुंचे माता के दर्शन किए तथा प्रसाद चढ़ाया।

 




राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned