नाकाबंदी तोड़ भाग रहे गो-तस्करों को पकड़ दो वाहनों से 34 गोवंश को कराया मुक्त, विधायक मेहता ने मौके पर पहुंच गोवंश को गांधी गोशाला पहुंचाया

गोवंश से भरे कंटेनर व पिकअप जयपुर जिले के चाकसू थाना क्षेत्र के कौथून से मध्यप्रदेश के मंदसौर जा रहे थे।

 

By: pawan sharma

Published: 13 Mar 2018, 09:35 AM IST

टोंक. हिन्दू जागरण मंच व बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने पुलिस के साथ मिलकर रविवार देर रात सदर थाने के सामने गोवंश ले जा रहे एक कंटेनर व पिकअप को पकड़ लिया। बाद में उन्हें गांधी गोशाला में छोड़ा गया। जहां गोवंश के चारे-पानी की व्यवस्था की गई। इससे पहले दोनों वाहनों के चालकों ने बरोनी में नाकाबंदी तोड़ दी। गोवंश से भरे कंटेनर व पिकअप जयपुर जिले के चाकसू थाना क्षेत्र के कौथून से मध्यप्रदेश के मंदसौर जा रहे थे।

 

 

सदर थाना प्रभारी नरेन्द्र जैन ने बताया कि कंटेनर के गिरफ्तार आरोपित बोतलगंज जिला मंदसौर मध्यप्रदेश निवासी रहीम, इजहार तथा आसिफ है। वहीं पिकअप चालक गिरफ्तार आरोपित उदयपुर निवासी राजू बंजारा है। उन्होंने बताया कि पिकअप चालक गोवंश को उदयपुर ले जा रहा था।

 

 

हिन्दू जागरण मंच के विभाग सहसंयोजक नरेन्द्र शर्मा जयसिंहपुरा ने बताया कि कार्यकर्ताओं को सूचना मिली थी कि चाकसू के पास किसी गांव से गोवंश को तस्करी के लिए ले जाया जा रहा है। टोंक जिले के गुजर रहे जयपुर-कोटा राष्ट्रीय राजमार्ग पर जगह-जगह कार्यकर्ता खड़े कर दिए और संदिग्ध वाहनों पर नजर रखने लगे। बरोनी में एक कंटेनर तथा पिकअप पर शक हुआ और पुलिस के साथ उसे रोकने की कोशिश की तो चालक वाहनों को भगा ले गए।

 

 


ऐसे में कार्यकर्ताओं ने सदर थाने के सामने पुलिस के साथ नाका लगा दिया और कंटेनर तथा पिकअप को पकड़ लिया। नरेन्द्र ने बताया कि सूचना पर विधायक अजीत मेहता भी मौके पर पहुंच गए। नरेन्द्र ने बताया कि मेहता ने पुलिस को हिदायत दी कि गोवंश तस्करी पर कठोर कार्रवाई की जाए।

 

 

पुलिस ने कंटेनर की जांच की तो उसमें 29 गोवंश मिले। कंटेनर में सवार रहीम, इजहार तथा आसिफ से गोवंश के बारे में पूछा तो वे संतोषपद्र जवाब नहीं दे पाए। ऐसे में पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया। इसी प्रकार पिकअप चालक राजू बंजारा से भी पूछा गया, लेकिन वह भी सही जवाब नहीं दे पाया।

 

 

ऐसे में पुलिस ने कंटेनर व पिकअप को जब्त कर गोवंश को गोशाला में छोड़ दिया। कार्रवाई के दौरान बलराम, अनिल, राकेश खारोल, श्योजी, मयंक, कमलेश खारोल, प्रेमसिंह राजावत, विकास चंदेल, गणेश चौधरी आदि निवाई व टोंक के कार्यकर्ता शामिल थे।

 

 

तेज गति कर ली वाहनों की
कार्यकर्ताओं ने बताया कि पुलिस की नाकाबंदी बरोनी में लगाई गई। कार्यकर्ता व पुलिस को देख चालकों ने दोनों वाहनों की गति तेज कर ली और नाका बंदी तोड़ वाहनों को टोंक की ओर ले गए। ऐसे में नरेन्द्र शर्मा ने विधायक अजीत मेहता को इसकी सूचना दी। इस पर मेहता सदर थाने पहुंचे और पुलिस से नाका लगवाकर वाहनों को रुकवाया।

Show More
pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned