राशन डीलर के खिलाफ गेंहू के गबन का मामला दर्ज, पूर्व में भी हो चुके है मामले दर्ज

Case registered एक तरफ राज्य सरकार गरीबों तक राशन पहुंचाने के लिए पोस मशीनों को काम में लेकर मशीन पर अंगूठा लगाने के बाद राशन सामग्री देने का कार्य करने में लगी हुई है, वहीं कस्बे में स्थित एक राशन डीलर द्वारा गरीबों के गेंहू पर कुण्डली मारते हुए 77 क्विंटल गेंहू का गबन कर दिया। रसद विभाग की ओर से राशन डीलर के खिलाफ बुधवार को थाना मालपुरा में मामला दर्ज करवाया गया है।

By: Vijay

Published: 04 Jul 2019, 05:12 PM IST

मालपुरा. एक तरफ राज्य सरकार गरीबों तक राशन पहुंचाने के लिए पोस मशीनों को काम में लेकर मशीन पर अंगूठा लगाने के बाद राशन सामग्री देने का कार्य करने में लगी हुई है, वहीं कस्बे में स्थित एक राशन डीलर द्वारा गरीबों के गेंहू पर कुण्डली मारते हुए 77 क्विंटल गेंहू का गबन कर दिया।

 

रसद विभाग की ओर से राशन डीलर के खिलाफ बुधवार को थाना मालपुरा में मामला दर्ज करवाया गया है। पूर्व में भी राशन डीलर के खिलाफ अकाल राहत कार्यों में 950 क्विंटल गेंहू के गबन का मामला दर्ज करवाया गया था, जो न्यायालय में विचाराधीन है।


मामले के अनुसार कस्बे के वार्ड नम्बर 5 के राशन डीलर छीतरलाल गुर्जर के खिलाफ उपभोक्ताओं द्वारा राशन सामग्री नहीं देने की रसद विभाग में शिकायत किए जाने पर विभाग के प्रवर्तन निरीक्षक मुनेश मीणा की ओर से की गई जांच में मामला सही पाए जाने व डीलर द्वारा 77 क्विंटल गेंहू गबन करने का मामला सामने आने पर विभाग की ओर से डीलर का लाइसेंस उसी समय निलम्बित कर दिया गया तथा बुधवार को मामला जांच में सही पाए जाने पर डीलर के खिलाफ मामला दर्ज करवाया गया।

 

गौरतलब है कि पूर्व में भी राशन डीलर छीतरलाल गुर्जर के खिलाफ ग्राम गनवर में राशन की दुकान में अकाल राहत कार्यों में 950 क्विंटल गेंहू के गबन का मामला दर्ज करवाया गया था, जो न्यायालय में विचाराधीन है।

 

दुबारा नोटिस जारी किया
निवाई. निवाई उपखंड अधिकारी के आदेश नगरपालिका अधिशाषी अधिकारी पर बेअसर साबित हो रहे है। एसडीओ द्वारा करीब दो सप्ताह पूर्व दिए गए नोटिस का ईओ को ओर से अब तक कोई जवाब पेश नहीं किया गया। इस पर उपखण्ड अधिकारी ने ईओ महिमा डांगी को बुधवार को दुबारा नोटिस जारी किया है।


उपखंड अधिकारी जे.पी.बैरवा ने बताया कि 18 जून को अधिशासी अधिकारी महिमा डांगी को कृषि भूमि में कॉलोनियां काटने पर पालिका द्धारा क्या कार्यवाही की गई, शहर के विभिन्न नालों की सफाई, बिना सूचना के मुख्यालय नहीं छोडऩे, मोबाइल बंद रखने या फोन नहीं उठाने पर नोटिस दिया था, लेकिन ईओ डांगी ने 16 दिन बाद भी उपखंड अधिकारी कार्यालय द्वारा दिए गए नोटिस कोई जवाब नहीं दिया गया।

 

नोटिस का जवाब नहीं देने पर बुधवार को पुन: रिमाइंडर नोटिस दिया गया हैं। इधर, दुबारा नोटिस जारी होने के बारे में पूछने के लिए सम्पर्क किए जाने पर ईओ ने फोन रीसिव नहीं किया।

 

tonk News in Hindi, Tonk Hindi news

Show More
Vijay Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned