scriptCase registered against the then SHO and investigating officer | तत्कालीन एसएचओ व जांच अधिकारी के खिलाफ मामला दर्ज | Patrika News

तत्कालीन एसएचओ व जांच अधिकारी के खिलाफ मामला दर्ज

दस्तावेज में फेरबदल का आरोप

जेल में बंदियों से चौथ वसूली से जुड़ा है मामला

टोंक. जिला जेल में बंदियों से चौथ वसूली के दर्ज मामले के दस्तावेज में फेरबदल करने के आरोप में कोतवाली थाने के तत्कालीन प्रभारी और जांच अधिकारी समेत कम्प्यूटर ऑपरेटर (कांस्टेबल) के खिलाफ इस्तगासे से मामला दर्ज हुआ है।

टोंक

Published: December 27, 2021 08:00:05 pm

तत्कालीन एसएचओ व जांच अधिकारी के खिलाफ मामला दर्ज
दस्तावेज में फेरबदल का आरोप

जेल में बंदियों से चौथ वसूली से जुड़ा है मामला

टोंक. जिला जेल में बंदियों से चौथ वसूली के दर्ज मामले के दस्तावेज में फेरबदल करने के आरोप में कोतवाली थाने के तत्कालीन प्रभारी और जांच अधिकारी समेत कम्प्यूटर ऑपरेटर (कांस्टेबल) के खिलाफ इस्तगासे से मामला दर्ज हुआ है।
तत्कालीन एसएचओ व जांच अधिकारी के खिलाफ मामला दर्ज
तत्कालीन एसएचओ व जांच अधिकारी के खिलाफ मामला दर्ज

यह मामला पीडि़त बंदियों के दिल्ली के अधिवक्ता राजेन्द्रसिंह तोमर ने सीजेएम न्यायालय में दायर परिवाद पर दर्ज कराया है। इसमें बताया कि जिला जेल में बंदियों के साथ हो रही चौथ वसूली और मारपीट का मामला कोतवाली थाने में दर्ज कराया था। दूसरा मामला जेल आईजी ने दर्ज कराया था।
तोमर ने बताया कि न्यायालय के आदेश से कोतवाली थाने में एफआईआर नम्बर 293/2020 दर्ज की गई थी। इसमे तथ्यों कों तोड़ मरोड़ कर लिखा गया था और कई तथ्यों को उनके लिखे इस्तगासे अनुसार लिखा ही नहीं गया था। कुछ तथ्य पुलिस ने अपनी मर्जी से ही लिख दिए थे, जो इस्तगासे नहीं थे।
इससे एफआईआर के तथ्य बदल गए थे। इसका सीधा लाभ आरोपियों को मिलने की सम्भावना है। ऐसे में उन्होंने कोतवाली थाने के तत्कालीन प्रभारी किशनलाल यादव, कम्प्यूटर ऑपरेटर और जांच अधिकारी प्रभुसिंह राजावत के खिलाफ दर्ज कराया है।
जेल में बंदियों से हुई मारपीट और चौथ वसूली के मामले में गत दिनों हुई पुलिस से रुपए लेने वाले डेयरी संचालक को गिरफ्तार किया था। अभी और कई आरोपियों को मामले में गिरफ्तार किया जाना बाकी है।

गौरतलब है कि गत वर्ष जिला जेल में चौथ वसूली के मामले का खुलासा हुआ था। इसमें पुराने बंदी नए आने वाले बंदियों से मारपीट करते थे और चौथ वसूली करते थे।


एटीएम से राशि निकालने के आरोपियों को लिया रिमांड पर
टोंक. शहर में विभिन्न स्थानों पर लगी एटीएम मशीन से छेड़छाड़ कर एक करोड़ रुपए की राशि निकालने के मामले में गिरफ्तार आरोपियों को कोतवाली थाना पुलिस ने सोमवार को न्यायालय में पेश किया। जहां से उन्हें 29 दिसम्बर तक पुलिस रिमांड पर लिया है।

पुलिस उपाधीक्षक सलेह मोहम्मद ने बताया कि एटीएम से राशि निकालने के मामले में पुलिस ने जैनपुर शेखपुर थाना अजीतमल जिला ओरय्या उत्तरप्रदेश निवासी अवधेश कुमार पुत्र छवीनाथ सिंह, नागला हीरालाल थाना बकेवर जिला ईटावा उत्तरप्रदेश निवासी लाल सिंह पुत्र रामप्रकाश, जगदीशपुर थाना अजवैन जिला उन्नाव उत्तरप्रदेश निवासी दिवाकर पुत्र राजकुमार, अन्दावा थाना बखेवर जिला ईटावा उत्तरप्रदेश निवासी लोकेन्द्र पुत्र मानूप्रताप, हीरापुर दिवारा थाना कालपी जिला जालोन उत्तरप्रदेश निवासी सोनू पुत्र छोटे लाल को रविवार को गिरफ्तार किया था।
इसका मामला कोतवाली थाने में एसबीआई बैंक शाखा टोंक प्रबंधक शंकरलाल मीणा ने दर्ज कराया था। उन्होंने बताया कि आरोपियों से पूछताछ की जा रही है। पुलिस आरोपियों से राशि बरामदगी समेत अन्य खुलासे को लेकर जांच में जुटी है। आरोपियों ने शहर स्थित सुभाष बाजार, घंटाघर, मोतीबाग, रोडवेज बस स्टैंड, छावनी क्षेत्र के एसबीआई बैंक शाखा के एटीएम मशीनों में कार्ड डाल कर ट्रांजेक्शन सफल होने से पहले ही एटीएम मशीन के पे विंडों के साथ छेड़छाड़ कर राशि का आहरण कर लिया था।
आरोपियों ने 6 एटीएम से अन्य बैंकों के कार्ड से कुल 1042 लेन-देन अनुमानित 99 लाख 99 हजार 500 की संदिग्ध राशि का आहरण गत 20 अक्टूबर से गत 17 नवम्बर के बीच तक किया था।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

देश में घट रहे कोरोना के मामले, एक दिन में सामने आए 2.38 लाख केसPM मोदी की मौजूदगी में BJP केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक आज, फाइनल किए जाएंगे UP, उत्तराखंड, गोवा और पंजाब के उम्मीदवारों के नामक्‍या फ‍िर महंगा होगा पेट्रोल और डीजल? कच्चे तेल के दाम 7 साल में सबसे ऊपरतो क्या अब रोबोट भी बनाएंगे मुकेश अंबानी? इस रोबोटिक्स कंपनी में खरीदी 54 फीसदी की हिस्सेदारीPunjab: ED की बड़ी कार्रवाई, सीएम चन्नी के भतीजे के यहां से 6 करोड़ की नगदी बरामदछत्तीसगढ़ के इस जिले में कलेक्टर हुए कोरोना संक्रमित, पॉजिटिविटी रेट बढ़ा तो बंद किए स्कूल और आंगनबाड़ी केंद्र24 घंटे में तीन की मौत, फिर हॉटस्पॉट बना एमपी का ये शहरAir Pollution: वायु प्रदूषण मुख्य समस्या, राज्यों से ली जाएगी रिपोर्ट... देखेंगे क्या होगा खुलासा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.