दो दिन से बस्ती में घूम रहा जरख पकड़ा


बांध के करीब वन क्षेत्र में छोड़ा

By: Vijay

Published: 02 Sep 2020, 07:04 PM IST


राजमहल.देवली सडक़ मार्ग के करीब कटारियों की ढाणी दो दिन से दहशत का पर्याय बने जरख को मंगलवार देर शाम ग्रामीणों ने वन विभाग के सहयोग से पकड़ लिया। बाद में जरख को बीसलपुर बांध के करीब वन क्षेत्र में छोड़ दिया गया है।
वन विभाग के अधिकारियों के अनुसार मंगलवार शाम को जब वन विभाग की टीम ने जरख को पकड़ कर मुंह व पैर रस्सी से बांध दिए तो जरख ने एक बार रस्सियां तोडऩे के साथ मजबूत लकडिय़ां जबड़े से टूकड़े कर भागने लगा, लेकिन पैर में बंधी रस्सी के कारण वापस लोगों के कब्जे में आ गया।
बिना संसाधन पहुंची टीम
इधर, वन विभाग की टीम के पास ना तो पिंजरा था और ना ही जरख को पकडऩे के लिए जाल था। ऐसे में जरख पकडऩे निकली टीम व ग्रामीणों के साथ हादसा हो सकता था। फिर ग्रामीणों की लाठियों से जरख की मौत भी हो सकती है। बीसलपुर वन क्षेत्र काफी किमी में फैला होने के साथ ही यहां कई प्रजाति के वन्य जीव रहने के बाद भी यहां वन विभाग के पास संसाधनों की कमी है, जिससे यहां आये दिन बस्ती में आने वाले अजगर, जरख आदि को पकडऩे के लिए कड़ी मशक्कत का सामना करना पड़ता है।

Vijay Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned