#Changemaker: वकील बोले राजनीति में वहीं लोग आए जो जनता की अपेक्षाओं पर खरा उतरे, वादा खिलाफी करने वाले नेताओं के खिलाफ भी हो कार्रवाई

#Changemaker:  वकील बोले राजनीति में वहीं लोग आए जो जनता की अपेक्षाओं पर खरा उतरे,  वादा खिलाफी करने वाले नेताओं के खिलाफ भी हो कार्रवाई

pawan sharma | Publish: May, 18 2018 08:55:11 AM (IST) Tonk, Rajasthan, India

चेंजमेकर जैसा अभियान जोर-शोर से पूरे देश में चलना चाहिए, राजनेताओं को भी समय के साथ परिवर्तन करना होगा।

निवाई. राजस्थान पत्रिका की ओर से स्वच्छ राजनीति के लिए चलाए गए चेंजमेकर अभियान के दौरान गुरुवार को बार एसोशिएशन कार्यालय में बार अध्यक्ष नरेन्द्र चौधरी की अध्यक्षता में संगोष्ठी एवं संकल्प सत्र का आयोजन किया गया। संगोष्ठी में बार अध्यक्ष चौधरी ने कहा कि यह अभियान जोर-शोर से देश में चलना चाहिए, जिससे ईमानदार एवं कर्मठ लोगों की राजनीति में भागीदारी होने से स्वच्छ राजनीति का उदय हो सके।

 

विधि एवं मानवाधिकार विभाग अध्यक्ष बनवारीलाल यादव ने कहा कि अभियान से जागरूकता आने के साथ भ्रष्ट राजनेताओं का सफाया भी होगा। पूर्व अध्यक्ष एडवोकेट गिरधरसिंह तंवर ने कहा कि राजनीति में वहीं लोग आए जो जनता की अपेक्षाओं पर खरा उतरे। एडवोकेट कन्हैयालाल मीणा ने कहा कि चुनावों के समय नेताओं द्वारा की गई घोषणाए अमल होने का भी प्रावधान होना चाहिए।

 

एडवोकेट रणजीत ङ्क्षसह ने कहा कि वादा खिलाफी करने वाले नेताओं के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए। एडवोकेट पुरषोत्तम शर्मा ने कहा कि आज राजनीति का समय बदल गया है। राजनेताओं को समय के साथ परिवर्तन करना होगा। इस अवसर पर एडवोकेट रामदयाल शर्मा एवं एडवोकेट हनुमान सिंगवाडिया, एडवोकट हंसराज चौधरी, शिवराज चौधरी, किशन सैनी, मोहम्मद सलीम, विनयशंकर शर्मा, हीरालाल चौधरी, रामअवतार शर्मा एवं कौशलकिशोर जाट सहित कई अधिवक्ता मौजूद थे।

 


नेता नहीं व्यक्ति को चुना जाना चाहिए
उनियारा. लोकतंत्र को मजबूत बनाने में अभिभाषक समुदाय की बड़ी भूमिका रहती। स्वच्छ राजनीति के लिए चलाए जा रहे पत्रिका महाअभियान में गुुुरुवार को आयोजित उनियारा अभिभाषक संघ की संगोष्ठी में यह बात उभरकर सामने आई। चेंजमेकर अभियान को लेकर आयोजित संगोष्ठी में अभिभाषकों ने संकल्प पत्र भरे।

 

उन्होंने राजस्थान पत्रिका के इस अभियान की सराहना करते हुए राजनीति में सुचिता लाने पर बल दिया। वरिष्ठ अधिवक्ता एम. लईक खान ने कहा कि आज राजनीति में कई तरह के लोग शामिल हो रहे हैं, लेकिन इनमें स्पष्ट व बेदाग छवि वाले के आगे लाना चाहिए। सुरेन्द्र धाकड़ ने कहा कि नेता नहीं व्यक्ति को चुना जाना चाहिए।

 

अधिवक्ता इकबाल अहमद ने कहा कि जब तक नेताओं की कथनी व करनी में अन्तर होगा तब तक विकास सम्भव नहीं है। अभिभाषक संघ ने उनियारा में काफी समय से चल रही ऐडीजे कोर्ट की मांग संकल्प पत्र में रखी। संगोष्ठी में कन्हैया ठाडा, गोविन्द शर्मा, दिनेश पारीक, हरिराज सिंह आदि ने विचार व्यक्त किए। बैठक में बदरी लाल यादव, दिनेश मोरवाल, मुज्जमिल सारन, श्योजीलाल चौधरी, देवेन्द्र सिंह हाडा, लोकेश वेरागी, वकील अहमद, महावीर चौधरी, रघुवीर सिंह, मंसूर अहमद, हरीश आदि मौजूद थे।

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned