सरकार ने घटाया पर्वो का अवकाश, कॉलेज व्याख्याताओं ने जताई नाराजगी

सरकार ने घटाया पर्वो का अवकाश, कॉलेज व्याख्याताओं ने जताई नाराजगी

 

By: pawan sharma

Published: 18 Oct 2020, 01:23 PM IST

टोंक. राज्य सरकार ने राजकीय महाविद्यालयों में पर्व तथा अन्य अवकाश में कटौती की है। पहले दीपावली का अवकाश 10 से 15 दिन का होता था, जिसे राज्य सरकार ने 5 दिन का कर दिया है। इसी प्रकार शीतकालीन अवकाश भी 10 से घटाकर महज 3 दिन का ही कर दिया है। इस पर महाविद्यालयों के शिक्षकों ने नाराजगी जाहिर की है।

राजस्थान विश्वविद्यालय महाविद्यालय शिक्षक संघ (राष्टीय) के अध्यक्ष डॉ. दिग्विजय सिंह शेखावत ने बताया कि राज्य सरकार ने इस साल दीपावली व शीतकालीन अवकाश में भारी कटौती की है। इससे नुकसान उनको होगा जो ग्रह क्षेत्र में नहीं है। ऐसे में वे घर पूरा समय नहंी दे पाएंगे। प्रदेश महामंत्री नारायणलाल गुप्ता ने बताया कि कोविड-19 के तहत जारी किए आदेशा के मुताबिक महाविद्यालय शिक्षक मुख्यालय नहीं छोड़ पाए

। ऐसे में लम्बे समय से वे घर नहीं जा पाएं हैं। उन्हें दीपावली व शीतकालीन पर परिवार के साथ रहने की उम्मीद थी, लेकिन इसमें भी कटौती कर दी गई है। इससे शिक्षकोंं में नाराजगी है। उन्होंने बताया कि सरकार ने अगर विद्यार्थियों की पढ़ाई को लेकर यह आदेश जारी किए हैं तो भी फिलहाल नियमित कक्षाएं लगने का समय अनुकूल नहीं है।

कानून व्यवस्था पर छात्रों ने सौंपा ज्ञापन
टोंक. प्रदेश की कानून व्यवस्था को लेकर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद की ओर से मुख्यमंत्री के नाम जिला कलक्टर को ज्ञापन सौंपा गया। इसमें बताया कि प्रदेश में आए दिन घटनाएं बढ़ती जा रही है। महिलाएं व बालिकाएं सुरक्षित नहीं है। राज्य सरकार से कानून व्यवस्था बनाए रखने की मांग की। ज्ञापन देने वालों में विजय चौधरी, परिक्षित साहू, विनोद गुर्जर, धारासिंह, विनोद आदि शािमल थे।

pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned