विकास कार्यों में मनमर्जी का आरोप लगा बीडीओ के खिलाफ लिया निंदा प्रस्ताव, कलक्टर को भेजी शिकायत

विकास कार्यों में मनमर्जी का आरोप लगा बीडीओ के खिलाफ लिया निंदा प्रस्ताव, कलक्टर को भेजी शिकायत

Pawan Kumar Sharma | Publish: Jul, 13 2018 03:31:29 PM (IST) Tonk, Rajasthan, India

आरोप लगाया कि बीडीओ मनमर्जी करते हुए जनप्रतिनिधियों की नहीं सुनते तथा मैं मेरी मर्जी से काम करुंगा की बात कहते है।

 

अलीगढ़. पंचायत समिति उनियारा बीडीओ डॉ. शिवसिंह पोसवाल पर जनप्रतिनिधियों ने विकास कार्यों में मनमर्जी का आरोप लगाते हुए निंदा प्रस्ताव लेकर जिला कलक्टर को ज्ञापन सौंपा गया है।पंचायत समिति की प्रशासन स्थापना समिति की बैठक में बीडीओ के खिलाफ निंदा प्रस्ताव पारित कर जनप्रतिनिधियों ने अलीगढ़ पंचायत समिति प्रधान ममता जाट के नेतृत्व में जिला कलक्टर को ज्ञापन सौंपा।

 

इस मौके पर पंचायत समिति सदस्य बाबूलाल मीना, रामभरोस मीना, राधेश्याम वर्मा, अयोध्या देवी आदि ने बीडीओ पोसवाल पर कार्रवाई की मांग करते हुए आरोप लगाया कि बीडीओ मनमर्जी करते हुए जनप्रतिनिधियों की नहीं सुनते तथा मैं मेरी मर्जी से काम करुंगा की बात कहते है।

 

ज्ञापन में आरोप लगाया कि पंचायत समिति मद में करोड़ों की राशि होते हुए भी विकास कार्य नहीं कराए जा रहे। इससे पहले बैठक में बीडीओ को भी बुलाया गया, लेकिन वे आवास में होने के बावजूद बैठक में देर से पहुंचे।

 

इसके बाद उन्हें विकास कार्य के प्रस्ताव लेने को कहा गया तो वे अनसुना कर दिया। इससे जनप्रतिनिधियों में रोष व्याप्त हो गया। इससे नाराज प्रतिनिधियों ने निंदा प्रस्ताव लेकर कलक्टर को ज्ञापन सौंपा। इधर, इस मामले मेंं बीडीओ से दूरभाष पर पक्ष जानना चाहा तो उन्होंने फोन रिसीव नहीं किया।

 

प्रधान बोली
पंचायत समिति प्रधान ममता जाट ने बताया कि बीडीओ जनप्रतिनिधियों की नहीं सुनकर मनमर्जी से विकास कार्य कराने समेत ग्रामसचिव का तबादला करते है।


कार्य बहिष्कार की चेतावनी दी

टोडारायसिंह. जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी व बीसलपुर दूदू परियोजना में कार्यरत श्रमिकों को तीन माह से भुगतान नहीं देने के विरोध में राजस्थान संयुक्त कर्मचारी एवं मजदूर महासंघ की ओर से उपखण्ड अधिकारी को ज्ञापन सौंपा। संभागीय अध्यक्ष सीताराम वैष्णव की अगुवाई में दिए ज्ञापन में बताया कि उपखण्ड के 50 गांवो में जलापूर्ति सप्लाई संधारण एवं संचालन का कार्य मैसर्स मेघा इंजि. एण्ड इन्फ्रा लिमिटेड कम्पनी से पांच वर्ष पहले अनुबंध किया गया था। उन्होंने आरोप लगाया कि सबंधित कम्पनी के ठेकेदार, कार्मिकों को मिलने वाला परिलाभ नहीं देकर शोषण कर रहा है। तीन माह से कार्यरत श्रमिकों को भुगतान नहीं देने से कार्मिक आर्थिक तंगी में जी रहे है। उन्होंने अविलम्ब भुगतान व परिलाभ समय पर नहीं देने पर 16 जुलाई से कार्य का बहिष्कार की चेतावनी दी। इस दौरान संघ अध्यक्ष खेमराज माली आदि मौजूद थे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned