भण्डारे के साथ अखण्ड रामायण पाठ की पूर्णाहुति

शहर के गंगागुरिया बालाजी मन्दिर परिसर में चल रही अखण्ड रामायण पाठ की शनिवार शाम भण्डारे के साथ पूर्णाहुति हुई। साथ ही भैरव प्रतिमा की प्राण-प्रतिष्ठा कर स्थापना की गई। इस मौके पर श्रद्धालुओं ने भण्डारे में प्रसादी ग्रहण की।

By: MOHAN LAL KUMAWAT

Published: 08 Dec 2019, 11:45 AM IST

देवली. शहर के गंगागुरिया बालाजी मन्दिर परिसर में चल रही अखण्ड रामायण पाठ की शनिवार शाम भण्डारे के साथ पूर्णाहुति हुई। साथ ही भैरव प्रतिमा की प्राण-प्रतिष्ठा कर स्थापना की गई।

read more : हैड कांस्टेबल की मौत का मामला: सात दिन बाद भी पुलिस गिरफ्त से बाहर आरोपी

इस मौके पर श्रद्धालुओं ने भण्डारे में प्रसादी ग्रहण की। कार्यक्रम में सहयोगी हुकुमचंद टेलर ने बताया कि विश्व शांति व क्षेत्र में खुशहाली की कामना को लेकर गत तीन-चार माह से गंगागुरिया बालाजी मन्दिर में अखण्ड रामायण पाठ चल रहा था, जिसके तहत शनिवार को अखण्ड रामायण पाठ की तीन दिवसीय कार्यक्रम के साथ पूर्णाहुति हुई।

read more : सुविधाओं के लिए मोहताज कॉलेज विद्यार्थी, फर्श पर बैठ कर रहे है अध्यन

इस मौके पर सुबह साढ़े ९ बजे यज्ञ पाण्डाल में पंचकुण्डीय हवन आयोजित हुआ। इसमें श्रद्धालुओं ने विधिवत् मंत्रोच्चार के साथ आहुतिया दी। मंत्रों की गंूज से क्षेत्र का माहौल धर्ममय हो गया। उन्होंने बताया कि मन्दिर में पूर्णाहुति तक १११ रामायण पाठ किए गए। इस बीच प्रधान पुजारी यतेन्द्र जोशी के मार्गदर्शन मेें भगवान भैरू की प्रतिमा की विधि-विधान के साथ प्राण-प्रतिष्ठा कर स्थापना की गई।

दोपहर २ बजे से मन्दिर परिसर में भण्डारे का आयोजन हुआ, जो रात ९ बजे तक चला। उक्त अखण्ड रामायण पठन, तीन दिवसीय कार्यक्रम व भण्डारे में आयोजन से जुड़े अनिल गोयल, रामपाल गर्ग, संदीप कांटिया, सत्येन्द्र जोशी, महेन्द्र साहू, सुरेश जैन, अश्विनी शर्मा, सुरेन्द्र, राजेन्द्र जिन्दल सहित ने सहयोग किया। इससे पहले शुक्रवार रात प्रतिमा की शहर में शोभायात्रा निकाली गई। इसमें अखाड़ेबाजों ने करतब दिखाए।

read more : संतुलन खो देने से वितरिका में गिरा ट्रक व कार, एक युवक घायल, दो दिन बंद रहेगा सिंचाई का पानी
भजन संध्या आयोजित
सिरस. हथौना गांव में कदम वाले बालाजी मंदिर में भजन संध्या का आयोजन हुआ। गायक राजू खण्डेलवाल ने ‘गणपति सब विधि पूरण काज’ भजन से गणेश वन्दना के साथ कार्यक्रम की शुरुआत की। गायक कैलाश माली ने ‘पूज्यो रे पूज्यो सालासर में जाए’ की प्रस्तुति देकर लोगों को नाचने पर विवश कर दिया।

इस मौके पर बालाजी की नयनाभिराम झांकी सजाई। कार्यक्रम में दिलीप, लोकेश, मुन्शी जैन, प्रहलाद भगत, मोहन गुप्ता, शंकर, चतुर्भुज गुर्जर, पदम चन्द, नरेश जैन सहित अन्य लोग मौजूद थे।

MOHAN LAL KUMAWAT
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned