देवली में कोविड वार्ड शुरू, लापरवाही पर डॉक्टर समेत 6 चिकित्सा कार्मिकों को कारण बताओ नोटिस जारी

शहर के राजकीय चिकित्सालय में मंगलवार से कोविड वार्ड शुरू कर दिया गया है, जिसमें 30 बैड रखे गए है। वर्तमान में 20 मरीज भर्ती किए गए है। वही उपखण्ड अधिकारी ने डॉक्टर समेत आधा दर्जन चिकित्सा कार्मिकों को आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 व राजस्थान महामारी अधिनियम 2020 के प्रति घोर लापरवाही व श्यामा सेवा नियमों के विपरीत आचरण की श्रेणी में कार्य पर कारण बताओ नोटिस दिए हैं।

By: pawan sharma

Published: 11 May 2021, 07:54 PM IST

देवली. शहर के राजकीय चिकित्सालय में मंगलवार से कोविड वार्ड शुरू कर दिया गया है, जिसमें 30 बैड रखे गए है। वर्तमान में 20 मरीज भर्ती किए गए है। उपखण्ड अधिकारी भारत भूषण गोयल ने बताया कि जिला कलक्टर के आदेशानुसार कोविड -19 संक्रमण रोकथाम के अंतर्गत यहां राजकीय चिकित्सालय में 30 बैड के कोविड वार्ड की शुरुआत कर दी गई है, जिसमें वर्तमान में 20 मरीज भर्ती है जिनमें से 5 ऑक्सीजन बैड व 15 साधारण बैड पर भर्ती है।

साथ ही आक्सीजन की पूरी (ऑक्सीजन सिलेण्डर व कंसंट्रेटर) उपलब्धता है । साथ ही कोविड हेल्प डेक्स शुरू की गई है, जिसके नम्बर 07427024636 है। इससे पूर्व उपखण्ड अधिकारी एवं इन्सीडेन्ट कमाण्डर ने कोविड -19 संक्रमण रोकथाम के अन्तर्गत उपखण्ड के सभी सीएचसी, पीएससी प्रभारी चिकित्सा अधिकारियो की ली, जिसमें सभी प्रभारियो से डोर टू डोर सर्वे पर बातचीत की गई एवं प्रभावी पर्यवेक्षण पर जोर दिया।

वही उपखण्ड अधिकारी ने डॉक्टर समेत आधा दर्जन चिकित्सा कार्मिकों को आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 व राजस्थान महामारी अधिनियम 2020 के प्रति घोर लापरवाही व श्यामा सेवा नियमों के विपरीत आचरण की श्रेणी में कार्य पर कारण बताओ नोटिस दिए हैं। प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र देवड़ावास के चिकित्सा अधिकारी डॉ मीनू हरितवाल,स्टाफ नर्स मंजू मीणा,प्रसाविका मीरा मीणा,मेल नर्स पोखर लाल,आवां के एमएन 2 संविदा एनएचएम विष्णु शंकर एवं सीतापुरा केंद्र के मेल नर्स प्रथम को कारण बताओ नोटिस का दो दिनों में स्पष्टीकरण मांगा है।

Corona virus
pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned