गैरइरादतन हत्या के मामले में बंद सजायाफ्ता बंदी की मौत, न्यायिक मजिस्ट्रेट करेंगे मामले की जांच

गैरइरादतन हत्या के मामले में बंद सजायाफ्ता बंदी की मौत, न्यायिक मजिस्ट्रेट करेंगे मामले की जांच

pawan sharma | Publish: Sep, 08 2018 06:52:32 PM (IST) Tonk, Rajasthan, India

जेलकर्मियों ने बताया कि सजायाफ्ता बंदी नंदा कीर लकवे से पीडि़त था। उसका कई दिनों से उपचार चल रहा था।

 

टोंक. जिला कारागृह में गैरइरादतन हत्या के मामले में बंद सजायाफ्ता बंदी की सुबह सआदत अस्पताल में मौत हो गई। वह कई दिनों से बीमार था। कोतवाली थाना पुलिस ने मामले में मृग दर्ज किया है। मामले की जांच न्यायिक मजिस्ट्रेट करेंगे।

 

पुलिस ने बताया कि मृतक बंदी सदर थाना क्षेत्र के जानबाज का बंधा निवासी नंदा पुत्र ग्यारसा कीर है। वह टोंक कारागृह में गत एक मई से बंद था। उसके खिलाफ गैरइरादतन हत्या का मामला था। न्यायालय ने उसे सजा सुना कर जेल भेजा था।

 

इधर, जेलकर्मियों ने बताया कि सजायाफ्ता बंदी नंदा कीर लकवे से पीडि़त था। उसका कई दिनों से उपचार चल रहा था। इसके चलते उसे सआदत अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां उसकी मौत हो गई। पुलिस ने पोस्टमार्टम करा शव परिजनों के सुपुर्द कर दिया।

 

टब में डूबने से मासूम की मौत
मालपुरा. उपखण्ड के रिण्डल्या बुजुर्ग गांव में शुक्रवार सुबह एक वर्षीय बच्चे की पानी से भरे टब में डूब जाने से मौत हो गई। मासूम की मौत से घर में कोहराम मच गया। जानकारी अनुसार रेहान पुत्र आमिन अपने घर के आंगन में खेल रहा था। इस दौरान पानी के टब में गिर गया। बालक के नहीं मिलने पर परिवार के लोगों ने उसे ढूंढने की कोशिश की तो बालक पानी के टब में मिला। तत्काल बालक को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र लाया गया, जहां चिकित्सकों ने बालक को मृत घोषित किया।

 

सामूहिक बलात्कार के तीन आरोपी गिरफ्तार
उनियारा. क्षेत्र के नगरफोर्ट थानान्तर्गत दो माह पूर्व एक विवाहिता से हुए सामूहिक बलात्कार के फरार चल रहे तीन आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

 

वृत्ताधिकारी विजय कुमार ने बताया कि 8 जून को नगरफोर्ट थानान्तर्गत एक विवाहिता के चाचा ने नगरफोर्ट में इस आशय का मामला दर्ज कराया था कि उसकी भतीजी को पांच आरोपी बहला फुसला कर बीसलपुर की ओर ले गए और वहां जाकर सामूहिक बलात्कार किया।

 

पुलिस ने गिरधारी, राकेश, दशरथ मीणा को गिरफ्तार कर टोंक न्यायालय में पेश किया। जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया। गौरतलब है कि पुलिस पूर्व मेें आरोपी खुशीराम मीणा व लोकेश मीणा निवासी खरोई नगरफोर्ट को गिरफ्तार कर चुकी है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned