निगमकार्मिक के साथ मारपीट करने वाले आरोपियों को गिरफ्तार नही करने पर कर्मचारियों ने दी आन्दोलन की चेतावनी

निगमकार्मिक के साथ मारपीट करने वाले आरोपियों को गिरफ्तार नही करने पर कर्मचारियों ने दी आन्दोलन की चेतावनी

Pawan Kumar Sharma | Updated: 04 Jun 2019, 07:14:59 PM (IST) Tonk, Tonk, Rajasthan, India

लाइनमैन बकाया बिलों का भुगतान वसूलने गया था। इस दौरान कुछ लोगों ने उसके साथ मारपीट कर दी।

 

टोंक. विद्युत वितरण निगम के लाइनमैन के साथ गत 26 मई को मेहंदवास कस्बे में हुई मारपीट के मामले में अभी तक आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया गया।

 

इससे नाराज राजस्थान विद्युत तकनीकी कर्मचारी एसोसिएशन से जुड़े कार्मिकों ने सोमवार को अधीक्षण अभियंता को मुख्यमंत्री समेत अन्य अधिकारियों के नाम ज्ञापन सौंपा।

 

इसमें एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष विनोद नायक, जिला महामंत्री विनोद शर्मा, देवराज गुर्जर, सतीशकुमार पटेल, आलोक चौधरी, नारायण धाकड़, सहदेव प्रजापत आदि ने बताया कि गत 26 मई को लाइनमैन धर्मेन्द्र राय मेहंदवास में बकाया बिलों का भुगतान वसूलने गया था।

 

इस दौरान कुछ लोगों ने उसके साथ मारपीट कर दी। इसका मामला मेहंदवास थाने में रामअवतार, अजयकृष्ण व ब्रदी समेत अन्य के खिलाफ नामजद दर्ज कराया गया।

 

इसके बावजूद पुलिस ने अभी तक आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया। वहीं निगम के आदेशों के मुताबिक निगम के अभियंताओं की ओर से भी इस मामले में रिपोर्ट दर्ज नहीं कराई गई।

 

इससे कर्मचारियों में नाराजगी है। उन्होंने चेतावनी दी है कि मामले में आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं की गई तो वे आंदोलन का रुख इख्तियार करेंगे।

 

पानी का अवैध दोहन रोके
मालपुरा. अभिभाषक संघ के सदस्यों ने सोमवार को उपखण्ड अधिकारी अजय कुमार आर्य को ज्ञापन सौंप कर तालाबी भूमि को खराब होने से बचाने व पानी के अवैध दोहन पर रोक लगाने की मांग की है।

 


अभिभाषक संघ के सदस्य मुकेश तिवाड़ी के नेतृत्व में पालिका उपाध्यक्ष पुरुषोतम सैनी, सुरेन्द्र शर्मा, गोविन्द नारायण चौधरी, सहित अन्य अभिभाषकों का एक प्रतिनिधिमंडल उपखण्ड अधिकारी अजय कुमार आर्य ज्ञापन में अवगत कराया गया कि शहर के मध्य में काफी लम्बे चौड़े भू भाग पर बम्ब तालाब बना हुआ है।

 

इस तालाब में वर्षा के दिनों में पानी की अच्छी आवक होती है। शहरी क्षेत्र के विभिन्न स्थानों पर सीमेन्ट सडक़े सहित अन्य निर्माण कार्य करवाने के लिए एक कम्पनी ने प्लान्ट बम्ब तालाब की खाली पड़ी भूमि पर बना तालाब के पानी को प्लान्ट में उपयोग किया जाने लगा।

 

इससे तालाब का काफी पानी काम हो जाने से तालाब सूख गया। ज्ञापन में सेंवेदक की ओर लगाए प्लान्ट को तुरन्त प्रभाव से हटवाने की मांग की गई है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned