घर-घर सर्वे कर बाहरी जिलों से आने वालों को किया पाबंद, स्क्रीनिंग कर घरों में रहने के लिए किया पाबंद

कोरोना वायरस के प्रकोप के चलते प्रशासन ने सख्ती बरतते हुए घर-घर सर्वे का कार्य शुरु कर बाहरी जिलों से आने वाले लोगों की स्क्रीनिंग कराकर घरों में रहने के लिए पाबंद किया।

By: pawan sharma

Published: 27 Mar 2020, 06:09 PM IST

मालपुरा. कोरोना वायरस के प्रकोप के चलते प्रशासन ने सख्ती बरतते हुए घर-घर सर्वे का कार्य शुरु कर बाहरी जिलों से आने वाले लोगों की स्क्रीनिंग कराकर घरों में रहने के लिए पाबंद किया।तहसीलदार अनिल चौधरी, डॉ नासीर नकवी के नेतृत्व में एएनएम, आंगनबाडी कार्यकर्ता, आशा सहयोगिनियोंं के दलों ने शहर में घर घर जाकर सर्वे का कार्य शुरु किया वहीं बाहर के जिलों से आने वाले लोगों को चिन्हित किया जाकर चिकित्सको द्वारा उनकी स्क्रीनिंग कराई गई तथा बाहरी जिलों से आए सभी लोगों को 15 दिन तक होम आईसोलेट किया गया। वहीं तहसीलदार ने बताया कि चार लोगोंं को न्यायिक प्रक्रिया से समन भेजकर पांबद किया गया है। वहीं खण्ड मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ संजीव चौधरी ने बताया कि उपखण्ड क्षेत्र में अब तक 497 लोगों की स्क्रीनिंग कर आईसोलेट किया गया है। जिनमें भीलवाड़ा जिले से आए हुए 33 लोग शामिल है।

- निगरानी के लिए कर्मचारी नियुक्त
टोडारायसिंह. उपखण्ड अधिकारी डॉ. सूरजसिंह नेगी ने कोरोना वायरस प्रभावित क्षेत्र से आए संदिग्ध व्यक्तियों की निगरानी व गतिविधियों की रिपोर्ट देने के लिए प्रति परिवार एक-एक कर्मचारी को नियुक्त किया है। साथ ही सात-सात घण्टे के अंतराल में सबंधित परिवार व संदिग्ध व्यक्ति की गतिविधियों की रिपोर्ट देने के लिए पाबंद किया है।

उन्होंने बताया कि संदिग्ध व्यक्तियों को आइसोलेट करने के लिए कस्बे के मुख्य बस स्टेण्ड स्थित नगरपालिका आश्रय स्थल व कस्तुरबा आवासीय विद्यालय को निर्धारित किया है। संख्या बढ़ी तो उक्त स्थलों पर संदिग्धों को आइसोलेट किया जाएगा। इधर, सोमवार को उपखण्ड अधिकारी ने अधिनस्थ अधिकारियों की बैठक लेकर राजस्थान लॉक डाउन के तहत पूर्णतया सख्ती बरतते सुरक्षा के व्यापक बंदोबस्त के लिए आमजन को जागरूक करें।

Corona virus
pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned