धुवांंकला में एक सौ पचास बीघा चरागाह भूमि से हटाया अतिक्रमण

धुवांंकला में एक सौ पचास बीघा चरागाह भूमि से हटाया अतिक्रमण

 

By: pawan sharma

Updated: 30 Sep 2020, 07:39 PM IST

दूनी . तहसीलदार विनिता स्वामी के निर्देशन में धुवांकला कस्बा स्थित चरागाह भूमि पर अतिक्रमणों को नायब तहसीलदार नगरफोर्ट प्रहलाद सिंह की मौजूदगी में राजस्व, पंचायत एवं पुलिसकर्मियों ने जेसीबी से देर शाम तक हटाए।

हालांकि पुरे चरागाह से अतिक्रमण नहीं हटने पर बुधवार को भी कार्रवाई जारी रहेगी। सरपंच रंगलाल सावरिया ने बताया कि नायब तहसीलदार की मौजूदगी में करीब तीन जेसीबी व एक लोडर लगा चराागह से अतिक्रमण हटाने का कार्य शुरू किया गया। अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई देर शाम तक जारी रही। सरपंच सावरिया ने बताया कि कस्बे की एक सौ पचास बीघा भूमि पर सालों से दर्जनों अतिक्रमणकारी काबिज थे। तहसील प्रशासन की ओर से कई बार नोटिस देकर अतिक्रमणकारियों को स्वत: हटाने को कहा गया, लेकिन नहीं मानने पर कार्रवाई की गई।


सरकारी भूमि पर अतिक्रमण, लोगों ने जताया विरोध

मालपुरा. उपखण्ड के डिग्गी निवासियो ने मंगलवार मुख्यमंत्री के नाम लिखे ज्ञापन की प्रति नायब तहसीलदार महेश कुमार को सौंप कर सरकारी भूमि पर हुए अतिक्रमण का विरोध प्रकट करते हुए इस अतिक्रमण को शीघ्र हटवाने की मांग रखी। सरपंच प्रतिनिधि हकीम के नेतृ़त्व में मदन सिंह, मनोहर, भंवरलाल, कृष्णगोपाल, पांचू तिवाड़ी, सत्यनारायण माली,लाला मास्टर, भंवरसिंह सहित अन्य ग्रामीणों के प्रतिनिधिमंडल की ओर से से ज्ञापन सौंपा गया।

ज्ञापन में अवगत कराया गया कि गांव के कुछ लोगो ने सरकारी व चरागाह भूमि व तालाबी भूूमि पर अतिक्रमण कर लिया। इस अतिक्रमण के चलतें ग्रामीणो में आक्रोश व्याप्त है। वहीं अतिक्रमण हटाने के लिए कहने पर लोग झगड़ा करने लगते हैं। ज्ञापन में यह भी बताया गया कि सार्वजनिक चरागाह भूमि के अतिक्रमण से गांव के पशुपालकों के मवेशियों के सामने परेशानी उत्पन्न हो गई है। ज्ञापन में अतिक्रमण की गई भूमि के खसरा नम्बरों की विस्तृत जानकारी देते हुए गांव की सरकारी , सार्वजनिक चरागाह व तालाबी भूमि को अतिक्रमण से मुक्त करवाने की मांग की गई है।

pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned