खाद की कमी , परेशान किसानों ने सहकारी समिति के लगाया ताला

डीएपी व यूरिया खाद की कमी के चलते श्री कल्याण ग्राम सेवा सहकारी समिति अध्यक्ष का किसानों ने घेराव कर सहकारी समिति कार्यालय के ताला लगाया।

By: pawan sharma

Published: 25 Sep 2021, 08:36 AM IST

मालपुरा. उपखण्ड के डिग्गी में शुक्रवार को डीएपी व यूरिया खाद की कमी के चलते श्री कल्याण ग्राम सेवा सहकारी समिति अध्यक्ष का किसानों ने घेराव कर सहकारी समिति कार्यालय के ताला लगाया। वहीं दो दिन में सप्लाई नहीं होने पर अनशन की चेतावनी दी।


डिग्गी श्री कल्याण सेवा सहकारी समिति द्वारा डीएपी व यूरिया खाद की सप्लाई नहीं किए जाने से आक्रोशित किसानों ने सहकारी समिति के बाहर प्रदर्शन कर अध्यक्ष गिरराज शर्मा का घेराव कर कार्यालय के ताला लगा दिया। वहीं अध्यक्ष ने किसानों ने बताया कि टोंक इफ्को अधिकारी द्वारा सीधे व्यापारियों को सप्लाई दी जा रही है।

जबकि डिग्गी व लावा सोसायटी को कम्पनी ने गोद ले रखा है उसके बाद भी अधिकारियों की मनमानी के चलते सप्लाई नहीं दी जा रही है। वहीं ग्रामीणो ने चेतावनी देते हुए कहा कि दो दिन में यदि सप्लाई नही की गई तो सोसायटी के बाहर धरना प्रदर्शन किया जाकर अनशन की चेतावनी दी। किसानों ने बताया कि आठ से दस दिन बाद सरसों की बुवाई का कार्य चालू किया जाना है, जिसमें खाद के बिना बुवाई करना सम्भव नहीं है।

खाद के लिए उमड़े किसान, बुलाई पुलिस

पीपलू. किसानों ने रबी फसल की तैयारी शुरू कर दी है, लेकिन खेत की हकाई के समय डाले जाने वाले खाद की कमी से किसान परेशान है। जहां भी खाद बांटने के बारे मेेंं किसानों को पता लगता है तो वे वहां पहुंच जाते हैं। पीपलू थाना क्षेत्र के रानोली ग्राम सेवा सहकारी समिति में शुक्रवार सुबह आए 700 खाद के कट्टों को लेने के लिए किसानों की भीड़ उमड़ पड़ी। हालत इस तरह बिगड़े कि समिति प्रबंधन को व्यवस्था के लिए पुलिस बुलानी पड़ी। उसके बाद दोपहर करीब 11 बजे खाद का वितरण शुरू किया गया।


ग्राम सेवा सहकारी समिति अध्यक्ष भंवर सिंह ने बताया कि आसपास के क्षेत्र में पिछले करीब 1 महीने से खाद उपलब्ध नहीं था। शुक्रवार सुबह ही 700 कट्टे खाद के आए। उसकी सूचना मिलने के बाद बड़ी संख्या में किसान खाद लेने पहुंच गए। बनवाड़ा चौकी पर तैनात दीवान बाबूलाल व कांस्टेबल नितेश चौधरी ने किसानों को समझाइश कर लाइन लगवाई।

पीपलू. कस्बे के सहकारी समिति में इफ को कंपनी द्वारा भेजे गए उवर्रक के कट्टों को बीच रास्ते में ही ट्रक चालक द्वारा बेचने का मामला सामने आया है। ग्राम सेवा सहकारी समिति व्यवस्थापक गोविंदनारायण योगी ने पीपलू थाने में रिपोर्ट देते हुए बताया कि24 सितंबर को इफ को कंपनी द्वारा 600 कट्टे एनपीके उर्वरक के पीपलू सहकारी समिति में भेजे गए थे।

जहां पीपलू सहकारी समिति ने ट्रक खाली करवाया तो उस ट्रक में 477 कट्टे ही प्राप्त हुए हैं। शेष 123 कट्टे उक्त गाड़ी के चालक मोरपाल गुर्जर पुत्र गोपाल गुर्जर निवासी डारडातुर्की तहसील पीपलू ने बीच रास्ते में ही में बेच दिए। व्यवस्थापक ने थाने में रिपोर्ट देकर ट्रक चालक के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने की मांग की है।

दिए जा रहे खाद के दो कट्टे

कृषि विभाग के डिप्टी डायरेक्टर राजेंद्र खंडेलवाल ने बताया कि जिले में डीएपी खाद की कमी बनी हुई है। अभी करीब 500 टन खाद है। इस माह 5 हजार डीएपी खाद और कुल करीब 20 हजार टन खाद की जरूरत है। समिति के सचिव रामविलास सैनी ने बताया कि डीएपी खाद की कमी को देखते हुए प्रति किसान को 2 कट्टे दिए जा रहे है। उधर, किसानों ने बताया कि खाद की कमी के चलते सुबह 8 बजे से लाइन में लगे।

pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned