scriptFood reached 8 thousand needy before throwing | फैंकने से पहले 8 हजार जरूरतमंदों तक पहुंचा भोजन | Patrika News

फैंकने से पहले 8 हजार जरूरतमंदों तक पहुंचा भोजन

लोगों को बताई अहमियत
अनदेखी से व्यर्थ हो जाता है भोजन
युवाओं की पहल
युवा दिवस पर विशेष
टोंक. अक्सर विवाह समारोह या अन्य मांगलिक कार्य में देखने को मिलता है कि भोजन व्यर्थ चला जाता है। समारोह आयोजक मेहमानों की संख्या के मुताबिक भोजन बना लेता है और कई बार यह भोजन अधिक हो जाने पर बच जाता है।

 

टोंक

Published: January 11, 2022 08:50:36 pm

फैंकने से पहले 8 हजार जरूरतमंदों तक पहुंचा भोजन
लोगों को बताई अहमियत
अनदेखी से व्यर्थ हो जाता है भोजन
युवाओं की पहल
युवा दिवस पर विशेष
टोंक. अक्सर विवाह समारोह या अन्य मांगलिक कार्य में देखने को मिलता है कि भोजन व्यर्थ चला जाता है। समारोह आयोजक मेहमानों की संख्या के मुताबिक भोजन बना लेता है और कई बार यह भोजन अधिक हो जाने पर बच जाता है।
फैंकने से पहले 8 हजार जरूरतमंदों तक पहुंचा भोजन
फैंकने से पहले 8 हजार जरूरतमंदों तक पहुंचा भोजन

वहीं कई बार भोजन करने के दौरान भी कुछ लोग जरा सी लापरवाही बरत जाते हैं और थाली में अधिक भोजन ले लेते हैं। अक्सर यह भोजन फैंका जाता है। जबकि सभी धर्मों में भोजन को महत्व दिया गया है। भोजन उतना ही लेना जितना जरूतर हो और भोजन के बेकदरी को लेकर कई बार धर्म गुरुओं के उपदेश भी सुनने को मिलते हैं।

इसी उपदेश और जरूतरमंदों की पीड़ा को देखते हुए शहर के कुछ युवाओं ने ऐसी पहल शुरू की जो आज शहर के लिए मिसाल बन रही है। युवाओं यह टीम भोजन को लेकर जहां लोगों को जागरूक रही है। वहीं समारोह में बचे हुए भोजन को लेकर जरूतरमंदों तक पहुंचा रही है। युवाओं ने अपनी टीम का नाम ओवरजॉय दिया है।
वर्ष 2018 में युवाओं ने कार्य शुरू किया और अब तक कई लोगों तक भोजन पहुंचा चुके हैं। साथ ही लोगों को भोजन नहीं फैंकने को लेकर जागरूक भी कर रहे हैं। पेश है राजस्थान पत्रिका की ओर युवा दिवस पर विशेष रिपोर्ट।
8 हजार तक पहुंचाया भोजन
टीम में सभी युवा विद्यार्थी है। टीम सदस्य कार्तिक बम ने बताया कि दोस्तों के साथ घूमते समय अक्सर देखने को मिलता था कि सड़क किनारे या बस्तियों में कई परिवार ऐसे हैं, जिनके पास पर्याप्त भोजन नहीं है। अच्छा भोजन वे कभी कभार ही कर पाते हैं।
ऐसे में उन लोगों तक अच्छा भोजन पहुंचाने की पीड़ा को समझा और एक टीम बनाई। इस टीम में कार्तिक बम, रोहित मेहरा, हेमंत पंवार, खेमश्री चौहान, महिका सिसोदिया शामिल हुए और सभी दोस्तों ने मिलकर टीम का नाम ओवरजॉय रखा। फिर शहर में जरूतरमंद लोगों की तलाश की।
इसके बाद यह टीम वहां पहुंच गई जहां बड़े स्तर पर मांगलिक समारोह चल रहा है। वहां जाकर आयोजक से बचे हुए भोजन को देने की गुजारिशत की। इस भोजन को अपने ही वाहन में लेकर यह टीम पहुंच गई जरूरतमंदों के पास। उन्हें भोजन दिया तो वे खुश हो गए। इस टीम ने अब तक 8 हजार लोगों तक समारोह में बचा हुआ भोजन पहुंचाया है।

कपड़े भी बांटे हैं
इस टीम ने भोजन के बाद कपड़े की जरूरत को भी पूरा किया है। टीम ने कई लोगों से सम्पर्क किया और जो कपड़े उपयोग में नहीं आ रहे। उन्हें एकत्र करना शुरू कर दिया। बाद में टीम ने एक जगह तय की और जरूरतमंदों को पहचान पत्र के साथ कपड़े देने शुरू कर दिए। इस टीम ने करीब 8 हजार लोगों को कपड़े पहुंचाए हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Corona Update in Delhi: दिल्ली में संक्रमण दर 30% के पार, बीते 24 घंटे में आए कोरोना के 24,383 नए मामलेSSB कैंप में दर्दनाक हादसा, 3 जवानों की करंट लगने से मौत, 8 अन्य झुलसे3 कारण आखिर क्यों साउथ अफ्रीका के खिलाफ 2-1 से सीरीज हारा भारतUttar Pradesh Assembly Election 2022 : स्वामी प्रसाद मौर्य समेत कई विधायक सपा में शामिल, अखिलेश बोले-बहुमत से बनाएंगे सरकारParliament Budget session: 31 जनवरी से होगा संसद के बजट सत्र का आगाज, दो चरणों में 8 अप्रैल तक चलेगानिलंबित एडीजी जीपी सिंह के मोबाइल, पेन ड्राइव और टैब को भेजा जाएगा लैब, खुल सकते हैं कई राजUP Election 2022: सपा कार्यालय में आयोजित रैली में टूटा कोविड प्रोटोकॉल, लखनऊ के गौतमपल्ली थाने में सपा नेताओं पर FIR दर्जGujarat Hindi News : दो अलग-अलग सड़क दुर्घटनाओं में दो छात्राओं समेत पांच की मौत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.