जिला परिषद की साधारण सभा: जिला प्रमुख बोले-विकास में कमी नहीं रखी

जिला प्रमुख सत्यनारायण चौधरी ने कहा कि जनप्रतिनिधि का काम जनता की सेवा करना है और गत 5 वर्ष में जिले में उन्होंने ग्रामीण क्षेत्र के विकास में कोई कसर बाकी नहीं रखी। इसमें जिला परिषद के सभी सदस्यों का सहयोग मिला।

टोंक. जिला प्रमुख सत्यनारायण चौधरी ने कहा कि जनप्रतिनिधि का काम जनता की सेवा करना है और गत 5 वर्ष में जिले में उन्होंने ग्रामीण क्षेत्र के विकास में कोई कसर बाकी नहीं रखी। इसमें जिला परिषद के सभी सदस्यों का सहयोग मिला।

read more : मनरेगा कार्मिक: अद्र्धनग्न होकर शहर में किया प्रदर्शन

जिला प्रमुख सत्यनारायण चौधरी ने सोमवार को जिला परिषद सभागार में आयोजित साधारण सभा में यह बात कही। जिला परिषद की आखिरी बैठक होने के कारण इसमें पांच साल का लेखा-जोखा भी बताया गया। वहीं इस बैठक में किसी भी सदस्य में विरोध तक नहीं किया।

read more ; टोरडी सागर बांध की नहर से सिंचाई का पानी खेतों में ले जाने की कवायद
जिला कलक्टर के.के.शर्मा ने कहा कि अधिकारियों को जनप्रतिनिधियों के साथ समन्वय बनाकर कार्य करते हुए आमजन को समस्याओं से राहत पहुंचाने का ध्येय होना चाहिए। इस दौरान विभिन्न विभागों से संबंधित गत साधारण सभा में किए गए निर्णयों को लेकर पालना रिपोर्ट पर चर्चा की गई।

इसके बाद जिला आयोजना समिति की बैठक के तहत प्रधानमंत्री ग्राम सडक़ योजना तृतीय फेज के तहत डीआरआरपी केन्डीडेट रोड के तहत जिले में कुल 1204 किमी लम्बाई की सडक़ों के प्रस्ताव का सर्वसम्मति से अनुमोदन किया गया।

read more : वाहनों की पार्किंग से निकलना हुआ दुभर, यातायात पुलिस नहीं दे रही ध्यान

इसके तहत पंचायत समिति देवली में 194.65 किमी, टोंक पंचायत समिति में 229.75 किमी, उनियारा पंचायत समिति में 184.53 किमी, मालपुरा पंचायत समिति में 234.38 किमी, निवाई पचंायत समिति में 195.63 किमी एवं टोडारायसिंह पंचायत समिति में 165.91 किमी सडक़ों का निर्माण कराया जाएगा। इस दौरान जिला परिषद सदस्य आत्मज्योति गुर्जर ने अवैध बजरी खनन व परिवहन पर कठोर कार्रवाईकरने को कहा। उन्होंने कहा कि रोक के बावजूद बजरी का खनन व परिवहन जारी है।


इसका उदाहरण गत दिनों टोडारायसिंह थाने के हैड कांस्टेबल की बजरी से भरे ट्रैक्टर-ट्रॉली के नीचे दबने से मौत होना है। वहीं बजरी परिवहन से ग्रामीण क्षेत्र की सडक़ें पूरी तरह से जर्जर हो चुकी है। जिला परिषद सदस्य रामचन्द्र गुर्जर ने कहा कि किसानों को पर्याप्त मात्रा में पानी उपलब्ध कराने की सुनिश्चिता अभियंता की ओर से की जाए।

बैठक के अन्त में सीईओ जिला परिषद नवनीत कुमार ने आभार व्यक्त किया। इस दौरान एडीएम सुखराम खोखर, उप जिला प्रमुख अवधेश शर्मा,प्रधान देवली शंकुतला वर्मा,प्रधान उनियारा ममता जाट, प्रधान मालपुरा सरोज चौधरी,प्रधान निवाई चन्द्रकला गुर्जर, जिला परिषद सदस्य खुशबू कंवर, किशनलाल फगोडिया, मणिन्द्र लोदी आदि मौजूद थे।

MOHAN LAL KUMAWAT Photographer
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned