बारात की निकासी के दौरान बिना मुण्डेर के कुएं में गिरी बालिका को बचाया

बारात की निकासी के दौरान बिना मुण्डेर के कुएं में गिरी बालिका को बचाया

 

By: pawan sharma

Updated: 29 Nov 2020, 06:53 PM IST

टोडारायसिंह. क्षेत्र के मोर गांव में शनिवार देर शाम बारात की निकासी के दौरान कीचड़ से बचने के लिए ऊंचाई पर चढ़ी एक बालिका अचानक बिना मुण्डेर के कुएं में गिर गई, जिसे मौके पर कुएं में कूदे दो बालकों ने बचा लिया। ग्रामीणों के अनुसार शनिवार देर शाम मोर गांव में माली समाज के एक दूल्हे की निकासी निकाली जा रही थी।

इसी बीच निजी विद्यालय के निकट कीचड़ जमा होने से शादी समारोह में शरीक कुछ बालिकाएं निकासी देखने के लिए नजदीक ऊंचाई पर स्थित चबूतरे पर चढ़ गई। अंधेरे में चबूतरे से सटे बिना मुण्डेर का कुआ दिखाई नहीं देने से अचानक बघेरा निवासी एक बालिका अचानक उसमें गिर गई। इसी बीच जान की परवाह किए बिना समारोह में शरीक एक युवक व मोर निवासी आशाराम गुर्जर ने कुएं में कूद कर बालिका को बचा लिया।

कुएं में 8-10 फीट गहराई में ही पानी होने से बालिका को बचा लिया गया। ग्रामीणों का कहना है कि सीसी रोड का निर्माण करने से मुख्य मार्ग की ऊंचाई बढ़ गई, लेकिन उक्त मार्ग पर जमा कीचड़ से बचने के लिए अधिकांश बच्चे कुएं के चबूतरे पर चढ़ जाते है। इधर, कुए के मूण्डेर नहीं होने से हादसा होने की संभावना बनी रहती है।


मां ने दर्ज करवाई बेटे की गुमशुदगी की रिपोर्ट
देवली.शहर के बंगाली कॉलोनी से एक पखवाडे पूर्व वाहन मालिक के साथ चालक बनकर गए युवक से संवाद नहीं होने पर उसकी मां ने शनिवार को स्थानीय पुलिस थाने में बेटे की गुमशुदगी रिपोर्ट दर्ज करवाई है।शहर के बंगाली कॉलोनी निवासी कैलाशी देवी पत्नी रतन लाल बैरवा ने दी रिपोर्ट में बताया कि करीब 15 दिन पूर्व यही के कसाई मोहल्ला निवासी रसीद उसके बेटे दिलीप बैरवा को उड़ीसा के लिए वाहन चलाने की बात कहकर घर से ले गया, लेकिन उसके बाद से बेटे के साथ कोई बात नहीं हुई। उसने रसीद से भी बात की तो सही जवाब नहीं मिला है, जिसके बाद मां ने बेटे की गुमशुदगी रिपोर्ट पुलिस में दर्ज करवा दी है।पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned