बनास नदी का सीना छलनी कर रहे है बजरी माफिया

राजमहल-बोटून्दा के करीब बनास नदी में बजरी माफिया ने बीसलपुर बांध के करीब शिलाबारी दह के पास नदी में रास्ता बनाकर बजरी का खनन शुरू कर दिया है।

By: pawan sharma

Published: 20 Feb 2021, 06:04 PM IST

राजमहल. राजमहल-बोटून्दा के करीब बनास नदी में पुलिस की ओर से गत दिनों दो सिपाही व एक हैड कांस्टेबल लगाकर अस्थाई नाका लगाने के बाद कुछ हद तक राजमहल में बजरी खनन पर अंकुश लगा है तो बजरी माफिया ने बीसलपुर बांध के करीब शिलाबारी दह के पास नदी में रास्ता बनाकर बजरी का खनन शुरू कर दिया है।

बनास नदी के शिलाबारी दह तक पहुंचने के लिए बजरी माफिया ने रावता माताजी गांव से आगे की ओर बीसलपुर सडक़ मार्ग से होकर लगभग डेढ़ किमी दूरी तक जेसीबी मशीन से वन क्षेत्र में पेड़ पौधों को नष्ट कर रास्ता निकाल लिया है, जिसकी जानकारी वन विभाग के कार्मिकों के साथ ही पुलिसकर्मियों को दी गई। यहां पर बजरी माफिया शाम ढलते ही वन क्षेत्र से होकर बनास में बजरी का खनन कर ट्रैक्टर-ट्रॉली में बजरी भरकर देवली, दौलता मोड़, पनवाड़, कसीर, गांवड़ी की ओर परिवहन कर रहे है।

बनास के किसानों में रोष:
बनास नदी के शिलाबारी दह के पास बजरी खनन को लेकर रास्ता बनाकर बजरी का खनन चालु करने से बनास के पेटाकास्तकारों में नाराजगी है। किसानों का कहना है कि वो वर्षों से बनास नदी की बजरी में पेटाकास्त कर अपना व परिवार का पालन-पोषण करते है। ऐसे में बजरी खनन के बाद बनास से बजरी नष्ट होने पर उनके सामने रोजी-रोटी का संकट मंडराएगा। बजरी खनन की सूचना उन्होंने वन विभाग के अधिकारियों के साथ ही पुलिस को दे दी है, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं होने से किसानों में नाराजगी बनी हुई है।

नदी में लावारिस खड़ी ट्रैक्टर-ट्रॉलियां जब्त
दूनी. घाड़ पुलिस ने गश्त के दौरान शुक्रवार को आमली-जगत्या स्थित बनास नदी पेटे लावारिस हालत में खड़ी ट्रैक्टर-ट्रॉलियों को जब्त कर कर मामला दर्ज किया है। थानाप्रभारी रामेश्वर मीणा ने बताया कि गश्त के दौरान नदी पेटे बबूलों की आड़ में खड़ी तीन ट्रैक्टर-ट्रॉलियां जब्त कर चालक एवं मालिकों की तलाश की, किसी के नहीं मिलने पर तीनों वाहनों को सरोली चौकी में खड़े करा धारा 38 में मामला दर्ज कर लिया।

अवैध बजरी खनन कर परिवहन करते हुए 3 ट्रैक्टर ट्रॉली जब्त

पीपलू. पीपलू पुलिस ने अवैध बजरी खनन कर परिवहन करने पर 3 ट्रैक्टर मय ट्रॉली जब्त करने की कार्रवाई की हैं। थानाधिकारी हरिनारायण मीणा ने बताया कि पीपलू पुलिस उपअधीक्षक ताराचंद चौधरी के निर्देश पर दौराने गश्त कुरेड़ी से गाता के कच्चे रास्ते पर 3 ट्रैक्टर-ट्रॉलियां बजरी भरकर गुजर रही थी, जिनके चालक पुलिस को देखकर ट्रैक्टर ट्रॉलियों को छोडकऱ मौके से फरार हो गए। जब्त ट्रैक्टर ट्रॉलियों को पीपलू थाने पर लाकर सुरक्षार्थ खड़ा किया। साथ ही थाने में फरार चालकों के विरुद्ध एमएमआरडी एक्ट में मुकदमा दर्ज कर अनुसंधान शुरु किया हैं।

Show More
pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned