उच्च न्यायालय ने प्रमुख शिक्षा सचिव सहित कई बड़े अधिकारियों को नोटिस जारी कर दो सप्ताह में मांगा जवाब

pawan sharma

Publish: Sep, 16 2017 01:31:08 (IST)

Gulzar Bagh, Tonk, Rajasthan, India
उच्च न्यायालय ने प्रमुख शिक्षा सचिव सहित कई बड़े अधिकारियों को नोटिस जारी कर दो सप्ताह में मांगा जवाब

न्यायालय के आदेश के बावजूद अभ्यावेदन का निस्तारण नहीं करने के मामले में उच्च न्यायालय की जयपुर पीठ ने नोटिस जारी किया है।

टोंक.

ग्राम पंचायत सहायक भर्ती में न्यायालय के आदेश के बावजूद अभ्यावेदन का निस्तारण नहीं करने के मामले में उच्च न्यायालय की जयपुर पीठ ने प्रमुख शिक्षा सचिव नरेशपाल गंगवार, पंचायती राज विभाग के सचिव नवीन महाजन, टोंक जिला परिषद के सीईओ, डीईईओ, तथा सवारिया पंचायत के पीईईओ को नोटिस जारी किया है।

 

उन्हें दो सप्ताह में जवाब देना होगा। न्यायाधीश मनीष भंडारी की एकलपीठ ने यह अंतरिम आदेश सवारिया निवासी शंकरलाल चौधरी और अन्य द्वारा अधिवक्ता लक्ष्मीकान्त शर्मा के जरिए दायर अवमानना याचिका पर दिए हैं। याचिका में बताया कि उच्च न्यायालय ने प्रार्थिया की याचिका पर गत 29 जून को आदेश दिए थे।

 

इसमें जिला कलक्टर की अध्यक्षता में गठित कमेटी को याचिकाकर्ताओं के अभ्यावेदन का एक माह में निस्तारण करना था। इसके बावजूद निस्तारण नहीं किया गया। इसके चलते न्यायालय ने नोटिस जारी कर दो सप्ताह में जवाब मांगा है।

 

रजिस्टे्रशन 18 तक
टोंक. बीएड, बीएसटीसी प्रशिक्षणार्थियों को इन्टर्नशिप के लिए 18 सितम्बर तक ऑनलाइन आवेदन करना होगा। इसके बाद जिला शिक्षा अधिकारी की ओर से उन्हें विद्यालय आवंटित किए जाएंगे। जिला शिक्षा अधिकारी शंकरलाल जाट ने बताया कि ऑनलाइन इन्टर्नशिप मोडयूल की शुरुआत शाला दर्पण पोर्टल प्रकोष्ठ की ओर से किया जा चुका है।

 

इसी प्रकार 18 सितम्बर तक ही संशोधित कर सकेंगे। इसके बाद 19 व 20 सितम्बर को जिला शिक्षा अधिकारी प्रारम्भिक प्रथम चरण के लिए विद्यालय आवंटन करेंगे। इसके बाद 21 व 22 सितम्बर को प्रथम चरण के लिए द्वितीय विद्यालय का आंवटन किया जाएगा। प्रशिक्षणार्थियों को आवंटित विद्यालयों में सात दिन में रिपोर्टिंग देनी होगी।

 

 

यादव को राष्ट्रपति ने किया सम्मान
निवाई. कृषि उपज मण्डी के सचिव रामविलास यादव द्वारा सह लेखक के रूप में लिखी गई पुस्तक ‘कृषि विपणन बदलते आयाम’ का वर्ष 2016 के भारत के नागरिकों के लिए हिन्दी में मौलिक पुस्तक लेखन के लिए राजभाषा गौरव पुरस्कार में तृतीय पुरस्कार के लिए राजभाषा विभाग गृह मंत्रालय द्वारा चयन किए जाने पर हिन्दी दिवस पर विज्ञान भवन नई दिल्ली में राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द के द्वारा यादव को राजभाषा गौरव तृतीय पुरस्कार से सम्मानित किया
गया।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned