scriptसख्ती के बाद भी जारी है अवैध खनन, बजरी से भरी दो ट्रैक्टर-ट्रॉली की जब्त | Illegal mining of gravel continues despite strictness | Patrika News

सख्ती के बाद भी जारी है अवैध खनन, बजरी से भरी दो ट्रैक्टर-ट्रॉली की जब्त

locationटोंकPublished: Mar 02, 2024 09:59:05 am

Submitted by:

pawan sharma

अवैध बजरी खनन व परिवहन के विरुद्ध चलाए गए अभियान के तहत अवैध बजरी से भरी दो ट्रैक्टर-ट्रॉली जब्त की है।

 

सख्ती के बाद भी जारी है अवैध खनन, बजरी से भरी दो ट्रैक्टर-ट्रॉली की जब्त
सख्ती के बाद भी जारी है अवैध खनन, बजरी से भरी दो ट्रैक्टर-ट्रॉली की जब्त
अवैध बजरी खनन व परिवहन के विरुद्ध चलाए गए अभियान के तहत अवैध बजरी से भरी दो ट्रैक्टर-ट्रॉली जब्त की है। निवाई थानाधिकारी हरिराम वर्मा ने बताया कि गश्त के दौरान निवाई पुलिस जाप्ता झिलाय पहुंचा। जहां बनास नदी से अवैध बजरी खनन कर आ रहा एक ट्रैक्टर-ट्रॉली दिखाई दी।
पुलिस को देखकर चालक ट्रैक्टर-ट्रॉली को रास्ते में ही छोडकऱ भाग छूटा। इसी प्रकार आगे बढऩे पर एक और अवैध बजरी से भरी ट्रैक्टर-ट्रॉली मिली। चालक पुलिस को देखकर ट्रैक्टर-ट्रॉली को छोडकऱ भाग छूटा। पुलिस ने अवैध बजरी से भरे दोनों ट्रैक्टर-ट्रॉलियों को जब्त कर निवाई थाने लाकर खड़ा करवाया दिया। अवैध खनन व परिवहन अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर चालक व मालिक की तलाश शुरू कर दी है।
चेजा पत्थर से भरी ट्रैक्टर-ट्रॉली पकड़ी

देवली. पुलिस ने गुरुवार को गणेश रोड श्मशान रास्ते से प्रताप कॉलोनी की तरफ चेजा पत्थर से भरी ट्रैक्टर-ट्रॉली को पकड़ लिया। लेकिन पुलिस को देख ट्रैक्टर चालक भागने में सफल रहा। सहायक उपनिरीक्षक दिलीप ङ्क्षसह ने बताया कि श्मशान की तरफ सडक़ पर ट्रैक्टर आता दिखा। जिसको रुकवाने का इशारा करने पर तेज गति से भगाकर चालक प्रताप कॉलोनी की तरफ ले गया। मशक्कत के बाद उसे रुकवाया। लेकिन चालक फरार हो गया। वहीं ट्रॉली पत्थर से भरी मिली।
ठगी के अभियुक्त को सात साल की सजा

मालपुरा. उपखंड के लांबाहरिङ्क्षसह थाना क्षेत्र के मांदोलाई गांव में एक कंपनी का मोबाइल टावर लगाने के नाम पर ठगी करने वाले अभियुक्त को एसीजेएम रेशमा जानवानी ने 7 वर्ष के कारावास की सजा सुनाई है। मामले में परिवादी राकेश कुमार बलाई है। उससे 28 हजार रुपए की ठगी करने वाला आरोपी अमन कुमार निवासी उदयराजपुर थाना मालवा जिला फतेहपुर उत्तर प्रदेश है। अभियोजन अधिकारी कमल कुमार एवं सहायक अभियोजन अधिकारी कन्हैयालाल ने बताया कि 23 जुलाई 2017 को आरोपी अमन कुमार ने एक कंपनी के मैनेजर राजीव शर्मा की फर्जी आईडी बनाकर चार किस्तों में परिवादी से ठगी की थी।

ट्रेंडिंग वीडियो