कोविड-19 वैक्सीन लगाने के बाद हुई मौत मामले में मृतक के परिवार को दी जाए सुविधाएं

जिला कलक्टर को सौंपा ज्ञापन
वैक्सीन लगाने के बाद हुई थी मौत
टोंक. ककोड़ गांव निवासी आशा सहयोगनी की कोविड-19 वैक्सीन लगाने के बाद हुई मौत मामले को लेकर भाजपा के बूंदी जिला प्रभारी नरेश बंसल के नेतृत्व में लोगों ने बुधवार को जिला कलक्टर को ज्ञापन सौंपा।

By: jalaluddin khan

Published: 17 Mar 2021, 08:38 PM IST

मृतक के परिवार को दी जाए सुविधाएं
जिला कलक्टर को सौंपा ज्ञापन
वैक्सीन लगाने के बाद हुई थी मौत
टोंक. ककोड़ गांव निवासी आशा सहयोगनी की कोविड-19 वैक्सीन लगाने के बाद हुई मौत मामले को लेकर भाजपा के बूंदी जिला प्रभारी नरेश बंसल के नेतृत्व में लोगों ने बुधवार को जिला कलक्टर को ज्ञापन सौंपा।


बूंदी जिला प्रभारी नरेश बंसल ने बताया कि गत दिनों आशा सहयोगिनी के टीका लगाया गया था। इसके बाद उसकी तबीयत खराब हो गई और मौत हो गई। उन्होंने बताया कि ज्ञापन में मांग रखी कि मृतका के परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी दी जाए।

साथ ही 5 लाख रुपए रुपये की आर्थिक सहायता समेत अन्य सरकारी सुविधा मुहैया कराई जाए। इस पर जिला कलक्टर गौरव अग्रवाल ने आश्वासन दिया कि पूरे प्रकरण की रिपोर्ट बना के राज्य सरकार को भेजी जाएगी। साथ ही जितना हो सके पीडि़त परिवार की मदद की जाएगी।

ज्ञापन देने वालों में देवीप्रकाश तिवाड़ी, दौलत राम, हंसराज धाकड़, जिला परिषद सदस्य लवेश मीना, पंचायत समिति सदस्य प्रकाश जाट, रामबिलास गुर्जर सरपंच ककोड़, रामदयाल जांगिड़, नितिन प्रकाश चन्द्रवाल, हुनमान फागणा, प्रवीण अजमेरा आदि शामिल थे।

मारपीट करने वाले कर्मचारी पर कार्रवाई की मांग, पौधो की रखवाली करने वाले ने दर्ज कराया था मामला
टोंक. वन विभाग के सोहेला नाका पर पौधों की देखरेख व रखवाली करने वाले कर्मचारी से मारपीट करने वाले वन रक्षक पर कार्रवाई की मांग को लेकर कर्मचारियों ने जिला कलक्टर को ज्ञापन सौंपा है।

इसमें बताया कि पीडि़त रामफूल मीना सोहेला स्थित वन विभाग के नाके में पौधों की देखरेख और रखवाली करता है। गत दिनों जब वह रक्षक के पास तनख्वाह की रिपोर्ट बनाने के लिए गया तो वन रक्षक ने उसके साथ मारपीट कर दी। इस पर रामफूल ने वन रक्षक आत्माराम के खिलाफ बरोनी थाने में मामला भी दर्ज कराया था।

पुलिस ने गत 2 मार्च को मामला तो दर्ज कर लिया, लेकिन वन रक्षक को पूछताछ के लिए बुलाया तक नहीं। इससे वन रक्षक ने फिर से पौधों की देखरेख करने वाले को धमकी है। इससे कर्मचारियों में नाराजगी है। ऐसे में कर्मचारियों ने कलक्टर को ज्ञापन सौंपकर मारपीट करने वाले वन रक्षक पर कार्रवाई की मांग की है।

jalaluddin khan Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned