शहर में 24 घंटे मिलेगा पानी, जिला प्रभारी सचिव ने दिए निर्देश

जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग के प्रमुख शासन सचिव एवं जिला प्रभारी सचिव संदीप वर्मा ने शहर की पेयजल वितरण व्यवस्था को 24 घण्टे सुचारू रूप से आपूर्ति किए जाने के निर्देश दिए।

टोंक. जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग के प्रमुख शासन सचिव एवं जिला प्रभारी सचिव संदीप वर्मा ने कहा कि राजस्थान सम्पर्क पोर्टल के प्रकरणों का निस्तारण समयबद्ध सीमा में हो। उन्होंने मंगलवार को कलक्ट्रेट सभागार में जिला स्तरीय अधिकारियों की बैठक में सम्पर्क पोर्टल पर विभिन्न विभागों के 30 दिन से अधिक 120 एवं 90 दिन तक के 119 प्रकरणों को आगामी बैठक से पूर्व निस्तारित करने के निर्देश दिए।

जिला प्रभारी सचिव ने जिले के मुख्य विकास कार्यों पर संबंधित विभाग के अधिकारियों से चर्चा कर वस्तु स्थिति की जानकारी ली। सार्वजनिक निर्माण विभाग के अभियंताओं ने बताया कि टोंक, गहलोत, जवाली, नानेर, कलमण्डा, धोली सडक़ मार्ग पर बनास नदी पर हाई लेवल ब्रिज की डीपीआर बनाने की कार्यवाही प्रक्रियाधीन है।

बीसलपुर विस्थापित कॉलोनी की क्षतिग्रस्त सडक़ों को जल संसाधन विभाग की ओर से सार्वजनिक निर्माण विभाग को हैंडओवर करने की प्रक्रिया के तहत दोनों विभागों की आपसी समन्वय की कमी के कारण क्षतिग्रस्त सडक़ों की मरम्मत व नवीनिकरण कार्य शुरू नहीं हो पाने पर जिला प्रभारी सचिव ने उच्च स्तर पर दोनों विभागों के अधिकारियों से चर्चा कर समाधान निकालने की बात कही।


सचिव ने शहर की पेयजल वितरण व्यवस्था को 24 घण्टे सुचारू रूप से आपूर्ति किए जाने के निर्देश दिए। जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग के अधीक्षण अभियंता ने बताया कि टोंक शहर में बहीर एवं हाउसिंग बोर्ड क्षेत्र में पुरानी वितरण पाइप लाइन होने के कारण 48 घण्टे के अन्तराल में जलापूर्ति की जा रही है।

इसके अतिरिक्त शहर को 24 घण्टे के अन्तराल में पेयजल आपूर्ति की जा रही है। शेष कार्य को फरवरी 2020 तक पूर्ण कर लिया जाएगा। सचिव ने आरयूआईडीपी की ओर से छोड़े गए अधूरे कार्य के कारण आमजन को हो रही परेशानी एवं जनता को पेयजल का लाभ नहीं मिलने को गम्भीरता से लिया। आरयूआईडीपी के अधीक्षण अभियंता अवधेश दुबे ने बताया कि नवीन निविदा आमन्त्रित कर दी गई है। आरयूआईडीपी की ओर से त्वरित गति से कार्यों को पूरा किया जाएगा।


बीसलपुर टोंक-उनियारा-देवली पेयजल परियोजना की समीक्षा करते हुए जिला प्रभारी सचिव ने प्रगतिरत कार्यों में तेजी लाने के निर्देश दिए। बीसलपुर परियोजना के अधीक्षण अभियंता ने बताया कि 46 4 में से 26 3 गांवों को परियोजना से लाभान्वित किया जा चुका है। शेष गांवों को जोडऩे का कार्य मार्च 2020 तक पूर्ण किया जाना प्रस्तावित है।


जिला प्रभारी सचिव को कार्यवाहक जिला कलक्टर नवनीत कुमार ने केन्द्र व राज्य सरकार की विभिन्ना फ्लेगशीप योजनाओं में जिले की स्थिति की जानकारी दी। बैठक में एडीएम सुखराम खोखर, उप वन संरक्षक चेतन कुमार, उपखण्ड अधिकारी टोंक डॉ.लक्ष्मी नारायण बुनकर, पुलिस उपाधीक्षक सौरभ तिवाडी, कोषाधिकारी रामावतार शर्मा आदि मौजूद थे।

pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned