अन्तरराष्ट्रीय चोर गिरोह पकड़ा

अन्तरराष्ट्रीय चोर गिरोह पकड़ा
tonk

Mukesh Kumar Sharma | Publish: Feb, 09 2016 11:11:00 PM (IST) Tonk, Rajasthan, India

राजस्थान सहित कई राज्यों से वाहन चोरी कर नेपाल, बांग्लादेश सहित कई स्थानों पर वाहनों को बेचने वाले

निवाई।राजस्थान सहित कई राज्यों से वाहन चोरी कर नेपाल, बांग्लादेश सहित कई स्थानों पर वाहनों को बेचने वाले अन्तरराष्ट्रीय गिरोह का निवाई थाना पुलिस ने पर्दाफाश कर चार आरोपितों को गिरफ्तार किया है। पूछताछ में आरोपितों ने करीब एक दर्जन राज्यों में वाहनों की चोरी करना स्वीकार किया है। पुलिस अधीक्षक प्रीति जैन ने बताया कि गत दिनों निवाई, मेहंदवास व अन्य स्थानों पर डम्परों समेत अन्य वाहनों की चोरियां हुई थी। पुलिस ने मौके से कई तथ्य जुटाकर आरोपितों की तलाश शुरू की। इसके लिए वृत्ताधिकारी सुनील कुमार के नेतृत्व में टीम का गठन किया गया।


इसमें थाना प्रभारी रामअवतार ताखर, उप निरीक्षक राजपाल सिंह, सहायक  उप निरीक्षक ओंकार शर्मा, विक्रम सिंह सहित एक दर्जन पुलिसकमियों को शामिल किया गया। उन्होंने फुटेज के आधार पर वाहन चोर गिरोह के सरगना कुंवर सिंह उर्फ कुंवरपाल निवासी कोशीकला जिला मथुरा उत्तरप्रदेश, कमल हसन उर्फ कमालु उर्फ आरिफ मेव निवासी शाहपुर नांगली जिला नूह मेवात हरियाणा, फहीम खां निवासी बूल थाना देहाती चान्दपुर जिला बुलन्दशहर उत्तरप्रदेश एवं संजय कुमार सिंह निवासी निजवारा थाना खेरा जिला जमुई बिहार को दबिश देकर अलग-अलग स्थानों से गिरफ्तार कर लिया। यह गिरोह एक साल में टोंक, भीलवाड़ा, कोटा, बारां, चित्तौडग़ढ़, सवाईमाधोपुर, बूंदी सहित अन्य जिलों में सैकड़ों वाहन चोरी की वारदातों को अंजाम दे चुका है।

उन्होंने बताया कि ये गिरोह टोंक, कौथून, दत्तवास, लालसोट, बौंली, गंगापुर सिटी, दौसा, भरतपुर, दिल्ली, हरियाणा, उत्तरप्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल, हैदराबाद सहित कई राज्यों से वाहनों की चोरी करके नेपाल, बांग्लादेश एवं दिल्ली के मायापुरी इलाके में किसी दलाल के माध्यम से औने-पौने दामों में वाहनों को बेचा करते थे। बॉर्डर से वाहन निकालते समय सबसे आगे इन आरोपितों की कार होती थी। रास्ता साफ होने पर वे चोरी वाले वाहन को आगे ले जाते थे।

वारदातें स्वीकारी

आरोपित नशा एवं अय्याशी के लिए वारदातों को अंजाम दिया करते थे। आरोपितों ने अब तक निवाई क्षेत्र से तीन डम्पर, टोंक से एक डम्पर व मिनी ट्रक, मेहन्दवास इलाके से मिनी ट्रक, देवली से डम्पर, बारां से डम्पर, बोलेरो, मिनी ट्रक, बूंदी से मिनी ट्रक व बोलेरो तथा चित्तौड़ रोड कोटा से एक डम्पर चुराना स्वीकार किया है।

पहले करते थे रैकी

चोरी से पहले आरोपित दिल्ली एवं गाजियाबाद से अपनी कार से रवाना होकर बड़े कस्बों में मकानों के बाहर अथवा सुनसान इलाकों में खड़े वाहनों की रैकी करने के बाद चुराकर ले जाते थे। वे इनके नम्बर तक भी नहीं बदला करते थे। पुलिस ने बताया कि चोरी हुए अन्य वाहनों एवं गिरोह के अन्य आरोपितों की तलाश जारी है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned