डिग्गी कल्याण ध्वज यात्रा के लिए गणेशजी को न्यौता दिया

डिग्गी कल्याण ध्वज यात्रा के लिए गणेशजी को न्यौता दिया

 

By: pawan sharma

Published: 16 Oct 2020, 08:35 AM IST

टोंक. डिग्गी कल्याण पदयात्रा संघ टोंक की ओर से शरद पूर्णिमा 31 अक्टूबर को डिग्गी कल्याण ध्वज यात्रा के लिए अन्नपूर्णा गणेशजी मन्दिर में सदस्यों ने पूजन कर निमंत्रण दिया। भजनलाल सैनी ने बताया कि 41 सालों से डिग्गी कल्याणधणी के प्रत्येक वर्ष सैकड़ों पद यात्री टोंक से जाते हैं।

शरद पूर्णिमा के अवसर पर ध्वज, पौशाक चढ़ाकर भोग लगाया जाता है। इस बार वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण के चलते कोविड गाइड लाइन की पालना करते हुए संघ द्वारा पदयात्रा कार्यक्रम में परिवर्तन कर 31 अक्टूबर को ध्वज यात्रा का कार्यक्रम तय किया है।

ध्वज यात्रा भूतेश्वर महादेव मन्दिर सवाईमाधोपुर चौराहे से सुबह 7 बजे दुपहिया वाहन के साथ रवाना होगी। जो डिग्गी पहुंच कर ध्वज, पौशाक चढ़ाकर कल्याणजी के भोग लगाया जाएगा। इसी ध्वज यात्रा के लिए पं.पवन सागर के सान्निध्य में अन्नपूर्णा गणेशजी को पूजन कर निमंत्रण दिया गया। इस मौके पर रमेश दास सर्राफ, रोहिताश्व कुमावत, कवि प्रदीप पंवार, रामकिशन काहल्या, भजन लाल सैनी, कमलेश गर्ग आदि मौजूद थे।


कंकाली माता मंदिर बंद रखने का लिया निर्णय
ेनिवाई. श्रीशक्ति पीठ सेवा संस्थान ने 15 दिन के लिए कंकाली माता मंदिर बंद रखने के निर्णय को लेकर उपखंड अधिकारी रूबी अंसार को ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन से बताया कि शारदीय नवरात्र पर्व पर कंकाली माता मंदिर में हजारों की संख्या में श्रद्धालु उमड़ते है, जिससे राज्य सरकार की गाइड लाइन की पालना पूरी तरह नहीं हो सकती, इसलिए 15 अक्टूबर से 30 अक्टूबर तक कंकाली माता के दर्शन आम नागरिकों के लिए बंद करने और मंदिर को नहीं खोलने का निर्णय लिया है। उन्होंने बताया कि नवरात्र में भीड़ होने की संभावना को लेकर यह निर्णय लिया गया। सोशल मीडिया के माध्यम से कंकाली माता के दर्शन किए जा सकते है।

Show More
pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned