चोरी के आरोपी जवाई व दुकानदार को भेजा जेल, चोरी गई चांदी की कनकती भी की बरामद

पुलिस ने आभूषण व नकदी चोरी करने के मामले में गिरफ्तार दो आरोपियोंं को मालपुरा न्यायालय में पेश किया, जहां से न्यायालय ने न्यायिक अभिरक्षा में भेजने का आदेश दिया।

Jalaluddin Khan

20 Mar 2020, 05:46 PM IST

लाम्बाहरिसिंह. पुलिस ने आभूषण व नकदी चोरी करने के मामले में गिरफ्तार दो आरोपियोंं को मालपुरा न्यायालय में पेश किया, जहां से न्यायालय ने न्यायिक अभिरक्षा में भेजने का आदेश दिया। रिमाण्ड पर चल रहे आरोपी की निशानदेही पर चोरी गई चांदी की चैन को मालपुरा स्थित आयुष ज्वैलर्स के दुकानदार कमल सोनी के पास से बरामद की गई। आरोपी ने चांदी की चैन दुकानदार को बेच दी थी।

थाना प्रभारी छीतरसिंह ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी अम्बापुरा निवासी सीताराम पुत्र रामनिवास मोग्या व मालपुरा निवासी कमल सोनी है। गौरतलब है कि गत दस फरवरी को पीडि़त आसनजोगियान निवासी सूवा मोग्या ने मामला दर्ज कराया गया था कि गुलगांव स्थित खेत पर वह पत्नी के साथ रखवाली कर रहा था। इस दौरान चोर आए पति-पत्नी के साथ मारपीट की और नकदी व आभूषण चुरा ले गए। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरु की।

जांच के दौरान पुलिस ने पीडि़त सुवा लाल के जवाई सीताराम से शक के आधार पर पुछताछ की तो उसने वारदात कबूल कर ली। इस पर पुलिस ने उसे आरोपी को गिरफ्तार किया था। आरोपी ने चोरी की गई चांदी की चैन को मालपुरा दुकानदार को बेच दी। इससे आरोपी की निशानदेही पर दुकानदार के पास से चोरी गई चांदी की चैन बरामद कर गिरफ्तार किया।

मूर्ति की शिनाख्त कराई
मालपुरा. उपखण्ड के पचेवर थानान्तर्गत पारली गांव के रघुनाथ मंदिर से चोरी हुई प्रतिमा की गुरुवार को तहसीलदार अनिल चौधरी के समक्ष मंदिर पुजारी एवं परिवादी से शिनाख्त कराई गई। वृत्ताधिकारी चक्रवर्ती सिंह ने बताया कि 12 मार्च को पारली ग्राम के रघुनाथ मंदिर से दिन दहाड़े अज्ञात चोर रघुनाथ मंदिर से भगवान रघुनाथ की मूर्ति चोरी कर ले गए थे, जिस पर पुलिस ने 13 मार्च को भांकरोटा थाना फागी निवासी सूरज मल जांगिड़ को हिरासत में लेकर गहन पूछताछ की गई, जिसकी निशानदेही पर बाढ दामोदरपुरा थाना निवाई निवासी सत्यनारायण मीणा को हिरासत में लिया जाकर उसकी निशानदेही पर उसी के खेत में गेंहू की फसल में जमीन में दबाई हुई मूर्ति को बरामद किया गया था। प्रतिमा की गुरुवार को पुजारी दुर्गाशंकर एवं परिवादी दिग्विजय सिंह से तहसीलदार के समक्ष शिनाख्त करवाई गइर्, जिसमें दोनों ने मूर्ति भगवान रघुनाथ की होना स्वीकार किया।

jalaluddin khan Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned