श्रीधरणीधर जन्मोत्सव एवं भागवत ज्ञानयज्ञ कथा महोत्सव पर कलश यात्रा निकाली

श्रीधरणीधर जन्मोत्सव एवं भागवत ज्ञानयज्ञ कथा महोत्सव पर कलश यात्रा निकाली

pawan sharma | Publish: Sep, 09 2018 09:15:05 AM (IST) Tonk, Rajasthan, India

कथा से पूर्व कलश यात्रा निकाली गई। महिलाओं ने सिर पर 51 कलश धारण कर कलश यात्रा
निकाली गई। कलश यात्रा में महिलाएं नाचती-गाती हुई जुलस के साथ रवाना हुई।

 

 

पलाई (उनियारा). क्षेत्र के माण्डकला में श्रीधरणीधर मन्दिर प्रागंण में अखिल भारतीय धाकड़ महासभा की ओर से श्रीधरणीधर जन्मोत्सव एवं भागवत ज्ञानयज्ञ कथा आचार्य पण्डित राजेन्द्र शास्त्री के सान्निध्य में आयोजित की गई। कथा से पूर्व कलश यात्रा निकाली गई।

 

महिलाओं ने सिर पर 51 कलश धारण कर कलश यात्रा निकाली गई। आचार्य पण्डित राजेन्द्र शास्त्री ने वैदिक मंत्रोच्चार से कलशों, ध्वज, भागवत की पूजा-अर्चना की गई तथा कलश यात्रा में महिलाएं नाचती-गाती हुई जुलस के साथ रवाना हुई। कलश यात्रा कथा स्थल पहुंची। इस दौरान धाकड़ युवा संघ तहसील अध्यक्ष रामप्रसाद धाकड़, माण्डकला मण्डल अध्यक्ष मोहनलाल धाकड़ मौजूद थे।

 


हरि स्मरण से मोक्ष की प्राप्ति
बंथली. मेहन्दवास पंचायत के मालियों की झोपडिय़ां स्थित सीतारामजी मंदिर में शनिवार से श्रीमद्भागवत कथा की शुरूआत हुई। इससे पहले महिलाओं ने गांव में कलशयात्रा निकाली। कथा वाचक पं. ओम शास्त्री ने कथा की शुरुआत कर कहा कि विपरित परिस्थितियों में हरि स्मरण ही दु:खों का नाश करता है।

साथ ही इसके स्मरण मात्र से मोक्ष की प्राप्ति होती है। कथा समिति अध्यक्ष बन्नालाल टाक ने बताया कि भागवत कथा को लेकर महिलाओं ने बालाजी मंदिर से कलश यात्रा निकाली, जा सीतारामजी मंदिर पहुंची। इस मौके पर उपसरपंच पोखरलाल सैनी, डॉ. केदार सैनी, जगदीश तंवर, बंशीलाल टाक, कैलाश सैनी, किशन थड़ोलिया, सीताराम पारोता आदि लोग थे।

 


सहस्रघट का आयोजन
राणोली-कठमाणा. पीपलू कस्बे के बिहारीनाथ मंदिर में शनिवार को सहस्रघट अभिषेक का आयोजन किया गया। इसके बाद श्रद्धालुओं ने ओम नम शिवाय, हर हर महादेव के जाप के साथ भगवान शिव का जलाभिषेक किया। इसके बाद महाआरती एवं प्रसादी वितरण का आयोजन हुआ।

 

डिग्गी कल्याण पदयात्रा रवाना
टोंकरावास स्थित तक्ष ठाकुरजी मंदिर से छठवीं पदयात्रा शनिवार रिमझिम बरसात के बीच रवाना हुई। समिति रमेश मीणा ने बताया कि पदयात्रा को सरपंच महेन्द्र मीणा व पूर्व पंचायत समिति सदस्य जगदीश मीणा ने ध्वज पूजन कर रवाना की।

 


उन्होंने बताया कि पदयात्रा शनिवार को टोडारायसिंह, रविवार को मालपुरा में रात्रि विश्राम के बाद सोमवार को डिग्गी पहुंच कल्याण जी के ध्वज चढ़ाएंगे। इस दौरान बाबूलाल मीणा, राजवीर सहित
अन्य लोग मौजूद थे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned