शारदीय नवरात्र में भी शक्तिपीठ स्थलों पर लगे ताले, घरों पर ही पूजा की अर्चना

शारदीय नवरात्र में भी शक्तिपीठ स्थलों पर लगे ताले, घरों पर ही पूजा की अर्चना

 

By: pawan sharma

Published: 18 Oct 2020, 05:11 PM IST

देवली. शहर के समीप कूंचलवाडा की बिजासण माता जी के साथ ही उपखण्ड के चांदली ग्राम में स्थित शक्तिपीठ हिंगलाज मातेश्वरी के दर्शन भी शारदीय नवरात्र में श्रद्धालुओं को नहीं होंगे। भक्तगण अब घरों पर रहकर ही नवरात्रि पूजन एवं आराधना कर सकेंगे।

कोरोना गाइडलाइंस के चलते चांदली माताजी के शनिवार प्रात: मातेश्वरी की आरती के बाद समिति ने मंदिर के मुख्य द्वार पर ताले लगा दिए हैं। वही मंदिर परिसर में आये भक्तों से जगह खाली करवा कर वहां लगी दुकानों को भी बंद करवा दिया है। ताकि नवरात्रा में भीड़ एकत्र ना हो और कोरोना महामारी से बचा जा सके।

राज्य के गृह मंत्रालय के आदेशानुसार ग्रामीण क्षेत्रों में धार्मिक स्थलों को 7 सितम्बर से खोले जाने का निर्णय लिया गया था। परन्तु मानव जीवन की सुरक्षा को सर्वोपरी रखते हुए एवं कोरोना वायरस के बढते संक्रमण से बचाव के लिए कुचलवाड़ा की बिजासन माता जी के शुक्रवार को हनुमान नगर की पुलिस ने एडवाइजरी के बाद पट पूर्णतया बंद कर दिए हैं। इसी तरह चांदली माताजी विकास समिति ट्रस्ट ने भी शनिवार की सुबह आरती के बाद मातेश्वरी के मंदिर को पूर्ण रूप से बंद करने का निर्णय लिया है।

जिसके चलते मंदिर के मुख्य द्वारों पर ताला लगा कर बंद कर दिया है। श्रद्धालुओं को दोनों प्रमुख शक्तिपीठों पर शारदीय नवरात्रि में दर्शन लाभ अर्जित नहीं होंगे और ना ही किसी प्रकार के आयोजन हो पाएंगे। मंदिर समिति के अध्यक्ष मिश्री लाल मीणा एवं सदस्य छीतर लाल डागर ने श्रद्धालुओं से अपील की है कि वे अपने घर पर ही मातेश्वरी की पूजा अर्चना करें।

इस बार मन्दिर परिसर स्थल में किसी भी प्रकार के मेलेए धार्मिक आयोजनों एवं जुलुस पर पूर्णतया प्रतिबंध रहेगा।शनिवार को शारदीय नवरात्र का शुभारंभ घर घर में घट स्थापना के साथ हो गया। इस दौरान श्रद्धालुओं ने घटस्थापना कर धर्म लाभ अर्जित कर व्रत उपवास रखने शुरू कर दिए हैं। इसी के साथ ही नवरात्र की शुरुआत हो गई है।

घट स्थापना कर कोरोना मुक्ति की कामना की

आवां.कस्बे में शनिवार को नवरात्रा स्थापना के अवसर पर खलिहानों के बालाजी मंदिर परिसर में बजरंग सेवा समिति के तत्वावधान में घटस्थापना कर कोरोना वायरस के संक्रमण से मुक्ति की कामना की। समिति के कोषाध्यक्ष किशन साहू ने बताया की पंडित शांति कुमार शर्मा ने विधि विधान से बजरंगबली और माता रानी का पूजन करवा कर घट स्थापना की। इस दौरान समिति के उपस्थित सदस्यों ने साष्टांग दंडवत कर माता रानी से कोरोना से मुक्ति की कामना की। इस अवसर पर युगल किशोर सोमानी, ललित सेन, फूलचंद कुम्हार, हंसराज साहू, रमेश सोनी, लक्ष्मीनारायण कारपेंटर, और राम रूप, विष्णु पाराशर चौधरी आदि उपस्थित थे।

Show More
pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned