टोंक मोतीबाग में चल रहे धरना व सत्याग्रह में पहुंचे जेएनयू दिल्ली के कई छात्र, सीएए, एनआरसी एवं एनपीआर के विरोध में दिया सम्बोधन

शहर के मोतीबाग क्षेत्र में सीएए, एनआरसी एवं एनपीआर के विरोध में संविधान बचाओ, देश बचाओ को लेकर चल रहे धरना सत्याग्रह में शुक्रवार रात दिल्ली के छात्र नेता पहुंचे।

टोंक. शहर के मोतीबाग क्षेत्र में सीएए, एनआरसी एवं एनपीआर के विरोध में संविधान बचाओ, देश बचाओ को लेकर चल रहे धरना सत्याग्रह में शुक्रवार रात दिल्ली के छात्र नेता पहुंचे। उन्होंने आंदोलन में शामिल लोगों में जोश भर दिया।

धरने में जेएनयू दिल्ली के उमर खालिद, राष्ट्रीय वेलफेयर पार्टी ऑफ इंडिया के राशिद हुसैन, अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी यूनियन के पूर्व अध्यक्ष मशकूर उस्मानी, नदीम खान, खालिद सेफी, बनोज्योत्सना लहरी प्रोफेसर दिल्ली यूनिवर्सिटी, इंजीनियर मौसूूज अहमद, डॉक्टर हरजीत सिंह भाटी फॉर्मर प्रेसिडेंट रेजिडेंस डॉक्टर्स एसोसिएशन दिल्ली ने कहा कि राज्य सरकार की कांग्रेस ने जनता के सुख-दु:ख में शामिल होने का वादा कर वोट मांगे थे, लेकिन वे सत्याग्रह में नहीं आए हैं। स्टूडेंट लीडर उमर खालिद ने पुलवामा के 40 शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने पुलवामा में आरडी एक्स लानेवालों को आज तक क्यों गिरफ्तार नहीं कर पाई।

नदीम खान ने कहा कि उनका किसी राजनेतिक पार्टी से कोई वास्ता नहीं है। हम इंसानियत बचाने निकले हैं। मशकूर उस्मानी ने कहा की 15 दिसंबर की रात पुलिस की बर्बरता से हम बहुत डरे और सहमे हुए थे, लेकिन 16 दिसम्बर सुबह रोशन हुई तो शाहीन बाग में कुछ बहने तिरंगा हाथ में लिए हुए प्रदर्शन करती हुई दिखाई दी।

उन्होंने महिला शक्ति का एहसास करा दिया। शाहीन बाग के प्राचीन आंचल को तिरंगों से भर दिया और उन महिलाओं ने बेगम हजरत महल, हजरत आइशा, रजिया सुल्तान, झांसी की रानी, लक्ष्मीबाई की याद दिलाते हुए बड़ा आंदोलन खड़ा कर दिया। शाहीन बाग में यह बता दिया कि यह लड़ाई सिर्फ और सिर्फ मुसलमानों की नहीं है हिंदू, मुसलमान, सिख, ईसाई सभी की है।


सलीमुद्दीन खान ने मंच संचालन किया। इस मौके पर मुफ्ती आदिल, एडवोकेट मजहर आलम, एडवोकेट एवोकेट सरताज अहमद, महबूब उस्मानी, मुमताज राही आदि मौजूद थे।

पुलवामा शहीदों को दी श्रद्धांजलि
पीपलू(रा.क.). जम्मू कश्मीर के पुलवामा में आतंकी हमले में शहीद सीआरपीएफ के वीर जवानों की कुर्बानी को याद करते हुए पहली बरसी पर पीपलू कस्बे के मुख्य बसस्टैण्ड स्थित सार्वजनिक प्याऊ के यहां पहल युवा संगठन की ओर से श्रद्धांजलि दी गई। वहीं दो मिनट का मौन रखा गया।


इसी तरह उपखंड क्षेत्र के बगड़ी में पुलवामा शहीदों की बरसती पर श्रद्धांजलि रैली निकाली गई। वहीं मोमबती जलाकर, शहीदों के चित्र पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी गई। इस दौरान रिटायर्ड फौजी कैलाश मीणा, बाबूलाल मीणा, प्रदीप वर्मा, भारत योगी, लोकेश गुर्जर, धनपाल गुर्जर, निसार टेंट, साबिर, मुकेश गुर्जर, सुनील शर्मा, मोइन खान, धर्मराज जाट, मनीष वर्मा, संदीप वर्मा, मुस्ताक खान, मुकेश आदि मौजूद रहे।

pawan sharma Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned