video: मालपुरा में तनाव के बाद एकता मंच व प्रशासन की हुई बैठक में अब लिया ये निर्णय

Pawan Kumar Sharma | Publish: Sep, 12 2018 09:25:39 AM (IST) Tonk, Rajasthan, India

मंच की बैठक में सदस्यों ने मंच के उद्देश्यों को प्राप्त करने में सकारात्मक सहयोग देने की बात कही।

 

 

 

मालपुरा. दोनों समुदाय के लोगों के मध्य आपसी सम्बन्ध मधुर बने रहें तथा एक-दूसरे के त्योहार के अवसर पर सहयोगात्मक भावना से त्योहार का आनन्द लें। यह बात प्रशासनिक अधिकारियों की ओर से दोनों समुदाय के लोगों के बनाए गए एकता मंच की बैठक में उपखण्ड अधिकारी अजय आर्य ने व्यक्त किए।

 

मालपुरा में गत दिनों हुई घटनाओं के बाद आपसी प्रेम व सौहार्द बढ़ाने के लिए अधिकारियों ने एकता मंच का गठन किया। इसमें मालपुरा के 25 वार्डों में प्रत्येक वार्ड से 4-4 सदस्य व पार्षद को साथ में जोडकऱ अन्य गणमान्य लोगों को मिलाकर 200 सदस्यों का एकता मंच का गठन किया।

 

एकता मंच की प्रथम बैठक में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक गोरधनलाल सोकरिया ने कहा कि मंच के सभी सदस्यों को मोबाइल के वाट्सअप ग्रुप में जोडऩे का कार्य प्रशासन द्वारा किया जा रहा है। इससे किसी भी अप्रिय घटना की तत्काल जानकारी मिलने पर उसे रोकने में मदद मिलेगी।

 

तहसीलदार मोहकम सिंह ने कहा कि एकता मंच एक खुला मंच है, जिसमें भाग लेने वाले सभी सदस्य अपने मन की बात व कस्बे में व्याप्त समस्याओं को प्रशासन के सामने रखें। थाना प्रभारी नवनीत व्यास ने कहा कि मंच का गठन कस्बे में दोनों समुदाय के लोगों के मध्य प्रेम व विश्वास को बढ़ाने के लिए किया गया है।

 

उन्होंने पम्पलेंटों के माध्यम से शहर में अशांति फैलाने वालों पर भी मंच के सदस्यों को अपनी नजर बनाए रखने की अपील की। एकता मंच की बैठक में डॉ. अंकित जैन ने मंच के उद्देश्यों का प्राप्त करने में सभी के सहयोग, शेरसिंह राजावत ने दोनों समुदाय के मध्य प्रेम को बढ़ाने, मदनलाल जैन ने दोनों समुदाय के त्योहारों में दोनों समुदाय के लोगों की ओर से किए जाने वाले स्वागत के कार्यक्रमों को शुरू कराने, इकबाल ने अप्रिय घटनाओं की पुनरावृति नहीं होने के लिए पूर्ण सहयोग देने, मोहम्मद हनीफ ने शहर में शांति बनाए रखने की शपथ लेने, मुंशी खां बेलिम ने लोगों को जिम्मेदारियों को निभाने का प्रस्ताव रखा। मंच की बैठक में सदस्यों ने मंच के उद्देश्यों को प्राप्त करने में सकारात्मक सहयोग देने की बात कही।

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned