मनरेगा कार्मिक: अद्र्धनग्न होकर शहर में किया प्रदर्शन

नियमित समेत विभिन्न मांगों को लेकर महानरेगा संविदा कार्मिक संघ का धरना व अनशन रामलीला मैदान में सोमवार को भी जारी रहा। धरने में प्रदेश भर से मनरेगा कार्मिक शामिल हैं। सरकार से मांगें मनवाने को लेकर उन्होंने सोमवार को शहर में अद्र्धनग्न प्रदर्शन किया। उनकी रैली रामलीला मैदान से शुरू हुई।

टोंक. नियमित समेत विभिन्न मांगों को लेकर महानरेगा संविदा कार्मिक संघ का धरना व अनशन रामलीला मैदान में सोमवार को भी जारी रहा। धरने में प्रदेश भर से मनरेगा कार्मिक शामिल हैं। सरकार से मांगें मनवाने को लेकर उन्होंने सोमवार को शहर में अद्र्धनग्न प्रदर्शन किया। उनकी रैली रामलीला मैदान से शुरू हुई।

read more : मासूम से बलात्कार के अभियुक्त को अंतिम सांस लेने तक की जेल

बैनर व हाथों में तख्तियां लेकर मनरेगा कार्मिक अद्र्ध नग्न होकर घंटाघर, सुभाष बाजार, काफला बाजार, बड़ा कुआं होते हुए विभिन्न बाजार व इलाकों से गुजरते हुए धरना स्थल पहुंचे। उन्होंने राज्य सरकार के खिलाफ नारे लगाए। साथ ही कहा कि धरना तब तक जारी रहेगा, जब तक उनकी मांगों का निस्तारण नहीं हो जाता।

read more : टोरडी सागर बांध की नहर से सिंचाई का पानी खेतों में ले जाने की कवायद
संघ के जिलाध्यक्ष इमरान खान, महासचिव आदर्श जैन तथा महामंत्री महावीर बाहेती ने बताया कि वर्ष २०१३ में निकाली गई कनिष्ठ लिपिक की भर्ती में ग्रामीण विकास एवं पंचायतराज विभाग में संविदा के आधार पर कार्य कर रहे कार्मिकों को बोनस अंक देने का प्रावधान किया था, लेकिन इस की प्रक्रिया बाद में रोक दी गई। इसे प्रक्रिया को राज्य सरकार की ओर से रोक हटने के बाद भी शुरू नहीं किया गया। ऐसे में धरना देकर सरकार के सामने मांग रखी गई।

read more : वाहनों की पार्किंग से निकलना हुआ दुभर, यातायात पुलिस नहीं दे रही ध्यान
प्रदेशाध्यक्ष अशोककुमार वैष्णव ने बताया कि मांगों को लेकर कलक्टर के. के. शर्मा से वार्ता हुई, जो बेनतीजा रही। ऐसे में कार्मिक मंगलवार को घंटाघर पर भिक्षावृति कर राज्य सरकार के कोष में भेजेंगे। इस दौरान पाली जिलाध्यक्ष मोहम्मद असलम, सवाईमाधोपुर जिलाध्यक्ष ज्ञानचंद, बूंदी जिलाध्यक्ष सुधाकर जैन तथा कोटा जिलाध्यक्ष संतोषकुमार आदि मौजूद थे। अनशन पर इमरान खान, सेवाराम, रमेश गुर्जर, भरतलाल चौधरी, लालचंद, राधेश्याम, संजय, गिरधर गोपाल, विनय, नारायणसिंह, पदम सिंह, कैलाश व अनिल बैठे हैं।

MOHAN LAL KUMAWAT Photographer
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned